CS holds meeting on investment proposals of ‘Investors Summit’ / इन्वेस्टर्स समिट की तैयारियों के संबंध में बैठक

0
2388
Reading Time: 2 minutes

Dehradun 17 September, 2018(DIPR)- Chief Secretary Utpal Kumar Singh held a meeting regarding the preparations for the “Investors Summit” to be held in October at Secretariat on Monday. The meeting discussed the strategy and progress of MOUs to be signed by investors with various departments.  It was informed in the meeting that 43 projects out of total 50 investable projects are completely ready and related departments are in agreement. The remaining seven projects will be given final shape soon.

 Chief Secretary asked the concerned departments to remain in touch with those willing to invest. He further said that the processes of MOU’s have started and projects for investments should be signed. He said that contacts with those businessmen who showed interest in investing in Uttarakhand during ‘G2B’ ( Government to Business) and road shows should be maintained. A large number of businessmen have shown interest in investing in Uttarakhand, investments worth Rs.20,000 crores in next two years have been finalized.

It was informed that Mahindra & Mahindra Electric vehicle, Adani group Floating Solar Energy, ITC Reliance and other big companies have sent their proposals. In this regard departmental secretaries have been given responsibilities and seven groups have been formed.

Secretary Tourism Dilip Jawalkar has been given the charge of tourism and hospitality, ropeway, parking, film shooting, entertainment and theme parks, Secretary Agriculture D. Senthil Pandian and Secretary animal Husbandry Meenakshi Sundram have been given the charge of agriculture, forestry, organic food processing, floriculture, herbal, aromatic plants and distillery, cooperatives, animal husbandry, dairy and fisheries, Secretary IT R. K. Sudhanshu has been given charge of IT, Rural BPO, and bio-technology, Secretary Ayush R.K. Sudhanshu and Secretary Health Nitesh Jha have ben given the charge of health care, ayush, wellness, pharma and senior citizen living, Secretary Education Bhupinder Kaur Aulakh and Additional Secretary Skill development  Dr. Iqbal Ahmed have been given the charge of education and skill development and start up innovation, Principal Secretary Industry Manisha Panwar has been given the charge of manufacturing (automobile, FMCG, textiles, apparel, engineering, plastic, electrical and electronics and forest related industry),Additional Chief Secretary Om Prakash, Secretary Irrigation Anand Vardhan, Secretary Power Radhika Jha were given the charge of telecom, connectivity, transport and logistics.

Detailed discussion on proposals of investments were held with departmental secretaries during the meeting.

देहरादून 17 सितम्बर, 2018(सू.ब्यूरो)-मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने सोमवार को सचिवालय में अक्टूबर में होने वाले इन्वेस्टर्स समिट की तैयारियों के संबंध में बैठक की। बैठक में विभागों के निवेशकों के साथ एमओयू हस्ताक्षर करने की रणनीति और प्रगति पर चर्चा की गई। बताया गया कि 50 इंवेस्टेबल परियोजनाओं में से 43 परियोजनाएं बिल्कुल तैयार हैं। संबंधित विभागों से सहमति बन गई है। शेष 07 परियोजनाओं को जल्द ही अंतिम रूप दिया जाएगा।
मुख्य सचिव ने संबंधित विभागों को निवेश के लिए इच्छुक उद्योगपतियो से लगातार संपर्क बनाए रखने के लिए कहा। साथ ही यह भी कहा कि एमओयू की प्रक्रिया शुरू हो गयी है, इसलिए निवेश के लायक परियोजनाओं पर हस्ताक्षर करवाएं। जी टू बी (गवर्नमेंट टू बिज़नेस) बैठक और रोडशो के दौरान जिन उद्योगपतियों ने उत्तराखण्ड में निवेश की रुचि प्रकट की थी, उनसे अवश्य संपर्क बनाए रखा जाए। हालांकि, निवेश के लिए बड़ी संख्या में उद्योगपतियों ने रुचि दिखाई है, अगले दो सालों में 20 हजार करोड़ रुपये के प्रस्तावों को अंतिम रूप दे दिया गया है। बताया गया कि महिंद्रा एंड महिंद्रा कंपनी इलेक्ट्रिक वाहन, अडानी ग्रुप फ्लोटिंग सौर ऊर्जा, आईटीसी, रिलायंस और अन्य बड़ी कंपनियों के प्रस्ताव आये हैं। इसके लिए विभागीय सचिवों को जिम्मेदारी दी गयी है। 07 ग्रुप बनाये गए हैं।
सचिव पर्यटन श्री दिलीप जावलकर पर्यटन और आतिथ्य, रोपवे, पार्किंग, फ़िल्म शूटिंग, मनोरंजन और थीम पार्क का दायित्व, सचिव कृषि श्री डी.सेंथिल पांडियन और सचिव पशुपालन श्री मीनाक्षी सुंदरम को कृषि, वानिकी, आर्गेनिक, खाद्य प्रसंस्करण, फ्लोरीकल्चर, हर्बल, सगंध पादप और डिस्टलरी, सहकारिता, पशुपालन, डेयरी और मत्स्य का दायित्व, सचिव आईटी श्री आर.के.सुधांशू को आईटी, ग्रामीण बीपीओ और बायो टेक्नोलॉजी का दायित्व, सचिव आयुष श्री आर.के.सुधांशू और सचिव स्वास्थ्य श्री नितेश झा को हेल्थ केयर, आयुष और वैलनेस, फार्मा, सीनियर सिटीजन लिविंग का दायित्व, सचिव शिक्षा श्रीमती भूपिंदर कौर औलख और अपर सचिव कौशल विकास डॉ.इकबाल अहमद को शिक्षा और कौशल विकास, स्टार्ट अप इनोवेशन का दायित्व, प्रमुख सचिव उद्योग श्रीमती मनीषा पंवार को मैन्युफैक्चरिंग (ऑटोमोबाइल, एफएमसीजी, टेक्सटाइल, अपैरल, इंजीनियरिंग, प्लास्टिक, इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रॉनिक और वन आधारित उद्योग), अपर मुख्य सचिव श्री ओम प्रकाश, सचिव सिंचाई श्री आनंद बर्धन, सचिव ऊर्जा श्रीमती राधिका झा को टेलकम, कनेक्टिविटी, ट्रांसपोर्ट और अन्य लॉजिस्टिक का दायित्व दिया गया है।
बैठक में सभी विभागीय सचिवों से निवेश के प्रस्तावों पर विस्तार से चर्चा हुई।

LEAVE A REPLY