डब्ल्यूटीओ में सुधार लाने में अहम भूमिका निभा सकता है भारत: फिक्की

0
3629
Reading Time: 1 minute

नयी दिल्ली, तीन दिसंबर (भाषा) देश के प्रमुख उद्योग मंडल फिक्की का कहना है कि जी20 देशों के वर्ष 2022 के शिखर सम्मेलन की मेजबानी की तैयारी कर रहा भारत विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) की व्यवस्था में सुधार का व्यावहारिक समाधान निकलाने के लिए सदस्य देशों को बातचीत के लिए तैयार करने की महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है। उद्योग संगठन फिक्की ने सोमवार को यह बात कही।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अर्जेंटीना में जी-20 के शिखर सम्मेलन में शनिवार को डब्ल्यूटीओ में सुधार की जरूरत को रेखांकित किया था।

फिक्की के अध्यक्ष राशेश शाह ने कहा, ‘‘जी-20 देश डब्ल्यूटीओ में आवश्यक सुधार के लिये सहमत हो रहे हैं, भारत की भूमिका एक सफल समाधान खोजने के लिये सभी देशों को वार्ता की मेज पर लाने में अहम है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘देश 2022 में जी-20 शिखर सम्मेलन की मेजबानी करने वाला है, ऐसे में यह अर्जेंटीना में मिले सकारात्मक परिणामों को ठोस परिणाम में तब्दील करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है।’’

शाह ने कहा कि अर्जेंटीना में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग के बीच हुई बैठक के सार्थक परिणाम निकले हैं। पूरी संभावना है कि यह वैश्विक व्यापार युद्ध को समाप्त करने में सफल होगा जिसके कारण वैश्विक व्यापार व्यापक तरीके से प्रभावित हुआ।

उन्होंने कहा, ‘‘यह तथ्य कि अमेरिका द्वारा कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं लगाया जाएगा और दोनों पक्ष बातचीत करेंगे, भारत समेत अन्य व्यापारिक देशों के लिये बड़ी राहत है।’’

LEAVE A REPLY