सामान्य निर्वाचन-2019 के दौरान मतदान हेतु EVM के साथ शत-प्रतिशत् VVPAT प्रयोग किये जाने के आयोग द्वारा निर्देश

0
4204

देहरादून(सू.ब्यूरो)-सचिव एवं मुख्य निर्वाचन अधिकारी श्रीमती सौजन्या द्वारा सर्वसाधारण को अवगत कराया गया है कि लोक सभा के आगामी सामान्य निर्वाचन-2019 के दौरान मतदान हेतु EVM  के साथ शत-प्रतिशत्  VVPAT प्रयोग किये जाने के आयोग द्वारा निर्देश दिये गये हैं। राज्य के सभी सम्मानित नागरिकों एवं मतदाताओं को,  EVM  तथा  VVPAT की जानकारी-जागरूकता हेतु जिलाधिकारियों द्वारा जनपद के अन्तर्गत प्रत्येक ग्राम कक्ष/मोहल्लों, हेमलेट आदि में EVM & VVPAT जागरूकता एवं प्रदर्शन हेतु कार्यक्रम इस प्रकार है।

प्रस्तावित कार्यक्रम के अनुसार जनपद उत्तरकाशी में दिनांक 10 जनवरी, 2019 से प्रारम्भ, चमोली में दिनांक 02 जनवरी, 2019 से, रूद्रप्रयाग में दिनांक 02 जनवरी, 2019 से, टिहरी-गढ़वाल में दिनांक 07 जनवरी, 2019 से, देहरादून में दिनांक 15 जनवरी, 2019 से, हरिद्वार में दिनांक 10 जनवरी, 2019 से, पौड़ी-गढ़वाल में दिनांक 01 जनवरी, 2019 से, पिथौरागढ़ में दिनांक 10 जनवरी, 2019 से, बागेश्वर में दिनांक 09 जनवरी, 2019 से, अल्मोड़ा में दिनांक 10 जनवरी, 2019 से, चम्पावत में दिनांक 10 जनवरी, 2019 से, नैनीताल में दिनांक 01 जनवरी, 2019 से तथा उधमसिंहनगर में दिनांक 10 जनवरी, 2019 से प्रारम्भ किया गया है।

उन्होंने ई.वी.एम. तथा वीवीपीएटी द्वारा कैसे मतदान करें, इस संबध में भी दिशा निर्देश जारी किये गये है।

1-बीयू सीयू तथा वीवीपीएटी का जनसामान्य में परिचय।

2-बीयू, सीयू तथा वीवीपीएटी को एक दूसरे से जोड़ने के पश्चात  मशीन में कोई मत न पड़े होने के संकेत की जानकारी।

3-प्रत्येक प्रदर्शन केन्द्र में लगभग-100 मतदाताओं से मॉक पोल कराये जाने की व्यवस्था।

4-बैलेट यूनिट में मनपसन्द उम्मीदवार के नाम वाले चिन्ह के परस्पर दांई ओर का नीला बटन दबायें।

5-मतदाता द्वारा मनपसन्द के उम्मीदवार के दांई ओर का नीला बटन दबाये जाने पर नीले बटन के परस्पर बांई ओर तीर के चिन्ह में लाल रंग की रोशनाई की लाईट चमकेगी तथा वीप की ध्वनि के साथ ही-

6-वीवीपीएटी मशीन में उसकी बैलेट स्क्रीन पर मतपर्ची दिखाई देगी, जिस पर उम्मीदवार का नाम तथा उसका चुनाव चिन्ह (जिस अभ्यर्थी के पक्ष में मतदाता द्वारा अपना वोट दिया गया) छपा होगा देखी जा सकती है।

7-वीवीपीएटी में यह पर्ची केवल 7 सेकेण्ड तक ही देखी जा सकती है इसके पश्चात पर्ची अपने-आप कट होकर वीवीपीएटी बॉक्स में गिर जायेगी। यह पर्ची मतदाता को नहीं मिलेगी।

8-ईवीएम एवं वीवीपीएटी में मतदान की प्रक्रिया पूर्ण रूप से सुरक्षित एवं पारदर्शी है, इसमें किसी भी प्रकार की छेड़-छाड़ और गड़बड़ी की कोई सम्भावना नहीं है।

9-राज्य के सभी सम्मानित नागरिकों एवं मतदाताओं से विशेष अपील है कि अपने अपने जनपद के अन्तर्गत आपके ग्राम मोहल्ला, हेमलेट आदि में निर्धारित तिथि को ईवीएम एवं वीवीपीएटी के प्रदर्शन एवं प्रयोग कार्यक्रम में अधिक से अधिक संख्या में प्रतिभाग करते हुए मॉक पोल अवश्य करें।

10-कृपया ईवीएम एवं वीवीपीएटी की जागरूकता कार्यक्रम के दौरान मॉक पोल में अपने मताधिकार का प्रयोग कर इसकी विश्वसनीयता, पारदर्शिता, गोपनीयता एवं अपने मत की सुरक्षा को पुष्ट करने का कष्ट करें।

LEAVE A REPLY