कृषकों की समस्याओं को त्वरित गति से निदान करने के निर्देश दिये जिलाधिकारी ने

3326
देहरादून, 11 जनवरी 2019 , विकासभवन सभागार में जिलाधिकारी एस.ए मुरूगेशन की अध्यक्षता में जिला भूमि एवं जल संरक्षण समिति एवं शासी निकाय आतमा की बैठक सम्पन्न हुई। इस अवसर पर जिलाधिकारी एस.ए मुरूगेशन ने कृषि, उद्यान, रेशम, मत्स्य समेत अन्य सम्बन्धित विभागों को कृषकों की समस्याओं को त्वरित गति से निदान करने के निर्देश दिये। उन्होंने कास्तकारों को समय से बीज, कीटनाशक एवं कृषि उपकरणों की उपलब्धता निश्चित करने को कहा। बैठक में बीज प्रतिस्थापन, पौध सुरक्षा प्रबन्धन को लेकर आवश्यक दिशा- निर्देश दिये। उन्होंने कृषि एवं उद्यान विभाग को आपसी समन्वय बनाकर कार्य करने के साथ ही ‘सेल्फ हेल्प गु्रपस’ की टेªनिंग दिए जाने को कहा। इस अवसर पर उपस्थित काश्तकारों द्वारा मांग के अनुसार समय से बीज उपलब्ध कराये जाने, मृदा परीक्षण, रोग एवं कीट प्रबन्धन, खरपतवार प्रबन्धन के अलावा डीएपी एवं एनपीके खाद उपलब्ध कराये जाने का अनुरोध किया। उन्होंने 6 विकासखण्डों में 61 हेक्टेयर क्षेत्रफल में कलस्टर बेस खेती अपनाएं जाने पर जोर दिया। बैठक में आवारा पशुओं, सुअरो, बन्दरों द्वारा खेती को नुकसान करने की समस्या से अवगत कराया गया। उन्होंने लोगों से पौध सुरक्षा कार्यक्रम के साथ ही भिज्ञ एवं अनभिज्ञ कृषकों को विजिट पर ले जाकर उन्नत खेती का प्रशिक्षण दिलाने, राष्ट्रीय समपोषण कृषि मिशन व प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना, चैक डैम निर्माण, गूल निर्माण, नलकूप निर्माण व भूमि कटाव के सम्बन्ध में विस्तार से जानकारी दी। इस अवसर पर मत्स्य पालन के क्षेत्र में श्री दिनेश को किसान भूषण पुरस्कार के तहत 25 हजार की धनराशि , संतराम विकासनगर को सब्जी  उत्पाद के क्षेत्र में पुरस्कार स्वरूप 25 हजार की धनराशि बैंक खाते में दी। इसके अलावा 2 ग्रुपों साई एवं भद्रकाली स्वयं सेवी समूहों को 20 हजार रूपये की धनराशि बैंक खाते में उपलब्ध कराई गयी। इसके अतिरिक्त ब्लाॅक लेवल पर रायपुर की मीरा ममगाईं, सहसपुर के साकिब, डोईवाला के इन्द्रजीत को पाॅल्ट्री, उद्यान के क्षेत्र में खेम सिंह व डोईवाला की गीता मोर्या को सब्जी उत्पादन क्षेत्र में, सहसपुर के हीरानन्द, नत्थुवाला के प्रताप सिंह को कृषि उत्पाद जैसे क्षेत्र में उन्नत  कार्य के लिए 10 हजार की धनराशि चैक के माध्यम से किसानश्री के रूप में पुरस्कार एवं प्रमाण पत्र वितरित किये।
कार्यक्रम में मुख्य विकास अधिकारी जी.ए रावत, मुख्य कृषि अधिकारी विजय देवराड़ी, वनाधिकारी राजीव गुप्ता, समेत विभिन्न विकासखण्डों से आये कृषक एवं विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।