70 पहुंची जहरीली शराब पीने से मरनेवालों की संख्या , उधर शराब माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई तेज

0
2730

हरिद्वार/सहारनपुर, नौ फरवरी (भाषा) हरिद्वार जिले के एक गांव में जहरीली शराब पीने से होने वाली मौतों की संख्या 70 हो गई है । मरने वालों में हरिद्वार और पड़ोसी सहारनपुर जिलों के लोग शामिल हैं। अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी।
एक अधिकारी ने बताया कि उत्तराखंड के हरिद्वार जिले के बालूपुर और इससे लगे हुए गांवों में 24 लोगों की मौत हुई है।
बृहस्पतिवार को बालूपुर से जहरीली शराब पीकर उत्तर प्रदेश के सहारनपुर स्थित अपने घर पहुंचे 46 लोगों की भी मौत हो गई।
अधिकारियों ने बताया कि इनमें से 35 मौतें सहानपुर जिले में ही हुई हैं। वहीं 11 अन्य लोगों को इलाज के लिए सहारनपुर से मेरठ भेजा गया था, उनकी मौत मेरठ में हुई।
शुक्रवार से लेकर अब तक कुछ और लोगों के मरने की रिपोर्टें मिली हैं और यह पता लगाने के लिए उनकी विसरा जांच की जा रही है कि क्या इनकी मौत का संबंध भी जहरीली शराब से ही है।

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर तथा कुशीनगर जिलों में जहरीली शराब पीने से हुई कई लोगों की मौतों के बीच गौतमबुद्धनगर जिले के आबकारी विभाग ने शराब माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई तेज कर दी है।
जिला आबकारी अधिकारी आरके सिंह ने बताया कि एक अभियान के तहत शुक्रवार की रात नोएडा से सटे कालिंदीकुंज में हरियाणा से तस्कारी कर लायी जा रही शराब से लदी ऑल्टो कार जब्त की गई। कार से शराब की कई बोतल बरामद की गई।
उन्होंने बताया कि इस दौरान महेन्द्र नामक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि जनपद के जगनपुर, बल्लू खेडा, महमूदपुर डेरी, खेलरीभाव में भी दबिश दी गई।
उन्होंने बताया कि शनिवार को भी कई इलाकों में पुलिस तथा एसटीएफ टीम के साथ आबकारी विभाग की दबिश जारी है। उन्होंने बताया कि गांवों तथा झुग्गी बस्तियों में भी अवैध शराब तथा देशी शराब की बिक्री करने वाले ठिकानों पर दबिश दी जा रही है। वहीं कच्ची शराब बनाने वालों पर भी शिकंजा कसा जा रहा है।
गौरतलब है कि कल सहारनपुर तथा कुशीनगर जिलों में जहरीली शराब पीने से 48 लोगों की मौत हो गई थी तथा सैकड़ों अस्पताल में भर्ती है। इस घटना के बाद प्रदेश सरकार ने समूचे प्रदेश में सघन अभियान चलाने के निर्देश दिये थे।