पाक वायुसेना ने भारतीय सैन्य प्रतिष्ठानों को निशाना बनाया, कोशिश नाकाम ,एक भारतीय पायलट लापता

4842

नयी दिल्ली-पाकिस्तानी वायुसेना पर भारतीय सैन्य प्रतिष्ठानों को निशाना बनाने का आरोप लगाते हुए भारत ने बुधवार को कहा कि इस हमले को सफलतापूर्वक नाकाम कर दिया गया लेकिन हवाई मुकाबले में एक मिग लड़ाकू विमान गिर गया और एक पायलट “कार्रवाई में लापता” हो गया है।

मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने एअर वाइस मार्शल आरजीके कपूर के साथ एक अत्यंत संक्षिप्त बयान में यह भी कहा कि भारतीय पायलट को पकड़ लेने के पाकिस्तान के दावे की पड़ताल की जा रही है।

यह घटनाक्रम भारतीय वायुसेना द्वारा पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सबसे बड़े शिविर को निशाना बनाए जाने के एक दिन बाद हुआ है। जैश ने कश्मीर के पुलवामा जिले में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए हमले की जिम्मेदारी ली थी। इस हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे।

कुमार ने कहा, ‘‘इस आतंक रोधी अभियान के खिलाफ पाकिस्तान ने आज सुबह भारतीय सैन्य ठिकानों को निशाना बनाने के लिए अपनी वायुसेना का इस्तेमाल किया। हमारी उच्च स्तर की तैयारी और सतर्कता की वजह से पाकिस्तान के प्रयासों को सफलतापूर्वक विफल कर दिया गया।’’ उन्होंने कहा कि पाकिस्तानी वायुसेना के विमान दिखते ही भारतीय वायुसेना ने त्वरित कार्रवाई की।

कुमार ने कहा, ‘‘हवा में हुई उस झड़प में भारतीय वायुसेना के मिग 21 बाइसन ने पाकिस्तानी वायुसेना के एक लड़ाकू विमान को मार गिराया। जमीनी बलों ने पाकिस्तानी विमान को आसमान से पाकिस्तान की ओर गिरते देखा।’’

उन्होंने कहा, ‘‘इस भिड़ंत में दुर्भाग्य से हमने एक मिग 21 को खो दिया। कार्रवाई में पायलट लापता है। पाकिस्तान का दावा है कि वह उसकी हिरासत में है। हम तथ्यों की पड़ताल कर रहे हैं।’’ दोनों अधिकारियों ने मीडिया के किसी सवाल का जवाब नहीं दिया।

भारत के बयान के कुछ ही समय बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने टेलीविजन पर अपना संबोधन दिया और परमाणु संपन्न पड़ोसियों के बातचीत के जरिये मुद्दों को सुलझाने की वकालत की। उन्होंने हालांकि दावा किया कि दो भारतीय मिग विमानों ने नियंत्रण रेखा पार की और उन्हें मार गिराया गया।

खान ने कहा, “हमारी कार्रवाई सिर्फ यह बताने के लिये थी कि अगर आप हमारे देश में आ सकते हैं तो हम भी वैसा कर सकते हैं। उनके दो मिग को मार गिराया गया।”

उन्होंने सभी जंगों में गणनाओं के गलत साबित होने का जिक्र करते हुए कहा कि किसी को नहीं पता कि वे किस दिशा में जाएंगी। खान ने कहा कि दोनों पक्षों को बुद्धिमता दिखानी चाहिए।

खान ने कहा, “मैं भारत से पूछता हूं: जिस तरह के हथियार आपके पास हैं और जो हथियार हमारे पास हैं तो क्या हम किसी तरह की चूक को बर्दाश्त कर सकते हैं? अगर यह (स्थिति) बिगड़ती है, यह मेरे नियंत्रण में नहीं होगी और न ही (प्रधानमंत्री) नरेंद्र मोदी के।”

उन्होंने कहा, “आइये साथ बैठते हैं और बातचीत के जरिये इसे सुलझाते हैं।”

विदेश मंत्रालय के मीडिया को जानकारी देने से पहले पाकिस्तानी सेना ने 46 सेकंड का एक वीडियो जारी किया जिसमें आंखों पर पट्टी बंधे एक शख्स के बारे में दावा किया गया कि वह भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन हैं।

वीडियो में दिख रहा शख्स कह रहा है, “मैं भारतीय वायुसेना का अधिकारी हूं। मेरा सर्विस नंबर 27981 है।”

इस वीडियो की प्रामाणिकता की हालांकि पुष्टि नहीं हो सकी है।

बढ़ते तनाव के बीच पाकिस्तान ने अपने समूचे वायुक्षेत्र को वाणिज्यिक उड़ानों के लिए बंद कर दिया है और भारत ने अपने उत्तरी क्षेत्र के अधिकांश इलाकों में नागरिक हवाई यातायात को अस्थायी रूप से बंद कर दिया है।

(भाषा)