द अल्टीमेट हिमालयन माउंटेन टेरैन बाइकिंग चैलेंज के चौथे संस्करण का आयोजन

10991

देहरादून-उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद और आई डी आई पी टी संयुक्त तत्वावधान में दिनांक 18 अप्रैल से 26 अप्रैल के बीच द अल्टीमेट हिमालयन माउंटेन टेरैन बाइकिंग चैलेंज के चौथे संस्करण का आयोजन किया जा रहा है. राज्य के 8 पहाड़ी जनपदों से होकर गुजरने वाले इस 564 किलोमीटर लंबे एक्सपीडिशन में 135 राष्ट्रीय तथा जर्मनी इंडोनेशिया इरान मलेशिया नेपाल श्रीलंका सिंगापुर और थाईलैंड के 25 अंतर्राष्ट्रीय प्रतिभागियों द्वारा रजिस्ट्रेशन करवाया गया है. इवेंट का उद्घाटन 17 अप्रैल को नैनीताल में किया जाएगा जबकि समापन समारोह 26 अप्रैल को देहरादून में संपन्न होगा. हिमालयन एमटीबी चैलेंज के प्रतिभागियों का दल नैनीताल अल्मोड़ा कौसानी रुद्रप्रयाग नई टिहरी चिन्यालीसौड़ और मशहूर होते हुए देहरादून पहुंचेगा.

आईडीआईपीटी के कार्यक्रम निदेशक तथा उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद के अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी एसएस रविशंकर ने बताया कि राज्य में एडवेंचर टूरिज्म को बढ़ावा देने के उद्देश्य से इस आयोजन को अंतरराष्ट्रीय स्वरूप प्रदान करने का प्रयास किया गया है. उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में माउंटेन बाइकिंग की असीम संभावनाएं छिपी हुई हैं और पर्यटन विभाग की योजना इन संभावनाओं की ओर वैश्विक एडवेंचर जगत को आकर्षित करते हुए राज्य को साहसिक पर्यटन के आदर्श गंतव्य के रूप में विकसित करने की है. 18 अप्रैल को नैनीताल में प्रतियोगिता का क्वालीफाइंग राउंड आयोजित किया जाएगा क्वालीफाई करने वाले प्रतिभागियों द्वारा 19 अप्रैल से नैनीताल से अल्मोड़ा तक 20 अप्रैल को अल्मोड़ा से कौसानी 21 अप्रैल को कौसानी से रुद्रप्रयाग 22 अप्रैल को रुद्रप्रयाग से नई टिहरी 24 अप्रैल को नई टिहरी से चिन्यालीसौड़ और 25 अप्रैल को चिन्यालीसौड़ से मसूरी तक साइकिलिंग की जाएगी.

इस तरह दल के द्वारा दुर्गम पहाड़ियों से होते हुए कुल 564 किलोमीटर की दूरी साइकिल से तय की जाएगी. अभी तक 160 से अधिक प्रतिभागियों द्वारा इस आयोजन हेतु रजिस्ट्रेशन करवाया गया है जिनमें 3 भारतीय तथा 9 विदेशी महिलाएं भी शामिल हैं. जबकि विदेशी पुरुष महिला और भारतीय पुरुष महिला वर्ग में प्रत्येक दिन के विजेता को सम्मानित किया जाएगा. समापन समारोह में आरंभ से लेकर अंत तक अपने अपने वर्ग में सबसे कम समय रिकॉर्ड करने वाले प्रथम तीन विजेताओं को सम्मानित किया जाएगा. स्थानीय प्रतिभागियों को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से स्थानीय वर्ग के प्रत्येक दिन के विजेता युवाओं के लिए विशेष पुरस्कार निर्धारित किए गए हैं.

श्री रविशंकर ने बताया कि व्यापक प्रचार प्रसार के उद्देश्य से समय-समय पर इस प्रतियोगिता के कर्टेन रेजर इवेंट आयोजित किए गए हैं जबकि वर्तमान में आयोजन के मस्कट ‘बर्फी’ को प्रचार प्रसार के उद्देश्य से प्रमुख सार्वजनिक स्थानों का भ्रमण कराया जा रहा है जिसे स्थानीय स्तर पर काफी लोकप्रियता मिल रही है. उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन तथा जिला पर्यटन’ कार्यालयों को आयोजन को सफल बनाने के उद्देश्य से आवश्यक निर्देशों के साथ समस्त सूचनाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं. साथ ही उन्होंने सभी जनपदीय अधिकारियों, कुमाऊं मंडल विकास निगम तथा गढ़वाल मंडल विकास निगम के अधिकारियों-कर्मचारियों से इस आयोजन को सफल बनाने में अपना महत्तम योगदान देने का आह्वान किया.