बिना किसी आधार के ताकत का इस्तेमाल गलत : कलकत्ता उच्च न्यायालय

0
213

कोलकाता. 21 सितम्बर(वार्ता) कलकत्ता उच्च न्यायालय ने पश्चिम बंगाल सरकार में दुर्गा प्रतिमा विसर्जन प्रतिबंधित किए जाने के मामले में आज एक बार ममता सरकार को फिर फटकार लगाते हुए कहा कि बिना किसी आधार के ताकत का इस्तेमाल गलत है ।
आखिरी विकल्प का फैसला सबसे बाद में करना चािहए 1 उच्च न्यायालय इस मामले में दोपहर बाद अपना फैसला सुनायेगी1 न्यायालय ने फैसला सुनाने से पहले कहा कि सरकार लोगों की आस्था में दखल नहीं दे सकती है 1 बिना किसी आधार के ताकत का इस्तेमाल बिल्कुल गलत है 1 न्यायालय ने कहा “ सरकार के पास अधिकार है, लेकिन असीमित नहीं है।
बिना किसी आधार के ताकत का इस्तेमाल गलत है, आखिरी विकल्प का फैसला सबसे बाद में करना चाहिए 1“ राज्य सरकार ने मुर्हरम को देखते हुए एक अक्टूबर को मूर्ति विसर्जन पर रोक लगाई है 1 दुर्गा प्रतिमा विसर्जन पूजा के बाद 30 सितम्बर और इसके बाद दो अक्टूबर को किया जा सकेगा 1 एक अक्टूबर को मुहर्रम की वजह से राज्य सरकार ने मूर्ति विसर्जन पर रोक लगाई है 1 सरकार के इस फैसले के खिलाफ उच्च न्यायालय में जनहित याचिका दायर की गई है 1 कल भी इस मामले में सुनवाई के दौरान न्यायालय ने कडा रुख अपनाया था