नववर्ष अभिनन्दन-डा.केवलकृष्ण पाठक

1
3710
नववर्ष अभिनन्दन 

नववर्ष तुम्हारा अभिनन्दन,नववर्ष तुम्हारा अभिनन्दन
सौरभमय हो जैसे चन्दन ,नववर्ष तुम्हारा अभिनन्दन

हो सबके मन में उजियारा ,नववर्ष में बरसे सुख- धरा
तेरे आने पे सब खुश हों,जाये ना भूख से कोई मारा
जन-मन में कभी न हो क्रंदन,नववर्ष तुम्हारा अभिनन्दन

अब करे न कोई घोटाला; आतंक पे लग जाये ताला
सब दृढ विश्वास से तन्मय हों,हो राष्ट्र-प्रेम का मतवाला
करके धरती माँ का वंदन,नववर्ष तुम्हारा अभिनन्दन

सब जग में हो भाईचारा, मन- मंदिर में हो उजियारा
सब द्वेषभाव से दूर रहें, नयनों में प्रेम की हो धारा
बंजर बन जाये नंदन-वन,नववर्ष तुम्हारा अभिनन्दन

-संपादक,रवींद्र जोति मासिक पत्रिका,आनद निवास ,
गीता कालोनी जींद 126102 हरियाणा

नव वर्ष की बधाई एवं शुभकामनाएं । नव वर्ष आपके जीवन में सुख, समृद्धि, शान्ति औऱ प्रतिष्ठा लाए।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY