इसरो ने रचा इतिहास, कार्टोसैट-2 समेत 31 उपग्रहाें का प्रक्षेपण

0
1280

बेंगलुरु 12 जनवरी (वार्ता) भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने अंतरिक्ष में एक और ऊंची छलांग लगाते हुए आज यहां के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान पीएसएलवी-40 सी के जरिये पृथ्वी अवलोकन उपग्रह कार्टोसैट-2 सहित 31 उपग्रहों का सफल प्रक्षेपण किया जिसके साथ ही इसरो निर्मित उपग्रहों के प्रक्षेपण का शतक पूरा हो गया।
पीएसएलवी-सी40 रॉकेट का सुबह नौ बजकर 29 मिनट पर अंतरिक्ष केंद्र से प्रक्षेपण किया गया जो बादलों से भरे आसमान को चीरता हुआ अपने गंतव्य की ओर बढ गया।
इस रॉकेट के जरिये 710 किलोग्राम वजनी कार्टोसैट-2 के साथ 28 विदेशी उपग्रहों का भी प्रक्षेपण किया गया जिनमें अमेरिका, कनाडा, फ्रांस, दक्षिण कोरिया, ब्रिटेन और फिनलैंड के उपग्रह शामिल हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 100वें उपग्रह के सफल प्रक्षेपण के लिए भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) की टीम को आज बधाई दी।
प्रधानमंत्री ने कहा ,‘ मैं आज पीएसएलवी के सफल प्रक्षेपण पर इसरो और उसके वैज्ञानिकों को दिल की गहराइयों से बधाई देता हूं ।
नए वर्ष में उसकी इस सफलता से अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में देश के तीव्र विकास का लाभ किसानों ,मछुआरों और अन्य नागरिकों को मिलेगा ।

LEAVE A REPLY