नकदी की समस्या जल्दी ही दूर कर दी जायेगी : जेटली

0
931
Reading Time: < 1 minute

नयी दिल्ली 17 अप्रैल (वार्ता) सरकार ने देश के कुछ हिस्सों में नकदी को लेकर आ रही दिक्कतों के जल्द ही दूर होने का आश्वासन देते हुये आज कहा कि पिछले तीन महीने में नकदी की माँग में भारी तेजी आयी है और चालू महीने के पहले 13 दिन में 45 हजार करोड़ रुपये की नकदी की आपूर्ति की गयी है।
देश के कई हिस्सों में बैंकों में नकदी की तंगी और एटीएम के खाली होने की शिकायतों के मद्देनजर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने आज कहा कि करेंसी नोंटों की स्थिति की समीक्षा की गई है। प्रचलन में और बैंकों के पास पर्याप्त नकदी है। कुछ क्षेत्रों में अचानक आयी दिक्कतें जल्द ही दूर कर दी जायेंगी।
इसके बाद वित्त मंत्रालय ने जारी बयान में कहा कि सरकार और रिजर्व बैंक ने नकदी की अप्रत्याशित मांग की पूर्ति के लिए सभी आवश्यक कदम उठाये हैं। बढ़ती मांग की पूर्ति के लिए नकदी का पर्याप्त भंडार है और जिन एटीएम में नकदी की कमी है, वहाँ जल्द ही इसकी आपूर्ति की जायेगी।
इसमें कहा गया है कि देश के कुछ राज्यों विशेषकर आँध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक, मध्य प्रदेश और बिहार में नकदी की मांग में जबदरस्त तेजी देखी गयी है। पिछले तीन महीने में नकदी की माँग अप्रत्याशित तरीके से बढ़ी है। चालू महीने में 45 हजार करोड़ रुपये की नकदी की पूर्ति की गयी है। सरकार और रिजर्व बैंक ने इस माँग की पूर्ति के लिए हर संभव कदम उठाये हैं। करेंसी नोट का पर्याप्त भंडार है जिसका असाधारण मांग की पूर्ति के लिए उपयोग किया जा रहा है। सरकार ने कहा कि 500, 200 और 100 रुपये के करेंसी नोट के पर्याप्त भंडार हैं जो किसी भी मांग की पूर्ति कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY