राष्ट्रीय फ्लोरंस नाइटिंगेल पुरस्कार के लिए चुना गया रंजना वालिया को

0
2332
देहरादून 12 मई, 2018-मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने शनिवार को तहसील चैक स्थित एक स्थानीय होटल में अन्तर्राष्ट्रीय नर्स दिवस के अवसर पर उत्तराखण्ड नर्सेज सर्विस एसोशिएशन द्वारा आयोजित कार्यक्रम में प्रतिभाग किया। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि फ्लोरंस नाइटिंगेल को सेवा के क्षेत्र में समर्पण के लिए दुनिया में जाना जाता है। उन्होंने एक उच्च वर्गीय परिवार में जन्म लेकर भी अपना सम्पूर्ण जीवन अभावग्रस्त लोगों की सेवा में लगाया। एक नर्स के रूप में उन्होंने लोगों की सेवा की। उनके इसी समर्पण भाव के कारण उनके जन्म दिवस को अन्तर्राष्ट्रीय नर्स दिवस के रूप में मनाया जाता है।
मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि मन में सेवा का भाव होना चाहिए। उत्तराखण्ड में कार्यरत नर्सें अच्छा कार्य कर रही हैं। उन्होंने कहा कि ईमानदारी एवं सेवा भाव के लिए उत्तराखण्ड के लोगों की विशिष्ट पहचान है। हाॅस्पिटेलिटी के क्षेत्र में उत्तराखण्ड में नर्सों की डिमाण्ड बढ़ती जा रही है। इस अवसर पर उन्होंने लम्बी अवधि से राजकीय सेवा में अपनी सेवायें दे रही नर्सो को सम्मानित भी किया। कार्यक्रम में जानकारी दी गई कि नर्स के रूप में सराहनीय सेवा देने के लिए उत्तराखण्ड की श्रीमती रंजना वालिया को राष्ट्रीय फ्लोरंस नाइटिंगेल पुरस्कार के लिए चुना गया है। यह पुरस्कार राष्ट्रपति के कर कमलों द्वारा प्रदान किया जायेगा।
इस अवसर पर स्वास्थ्य महानिदेशक डाॅ. अर्चना श्रीवास्तव, मुख्यमंत्री के स्वास्थ्य सलाहकार डाॅ. नवीन बलूनी, डाॅ. मीनीक्षी जोशी, डाॅ. के. सी. पंत, डाॅ. एच.डी. जोशी एवं प्रदेश के नर्सें उपस्थित थी।

LEAVE A REPLY