Successful 4 Years of Modi, C.M. Congratulates P.M.

0
1905
Reading Time: 3 minutes

Dehradun (25.5.2018)-On the successful completion of the four years of the union government led by Prime Minister Mr. Narendra Modi, Uttarakhand Chief Minister Mr. Trivendra Singh Rawat has congratulated the Prime Minister and the fellow countrymen. He said that during the four year tenure, India has touched new heights economically, in terms of social prosperity and development. At the international level, there has been an unprecedented increase in the honour and dignity of the country. For the all-round development of the country and welfare of everyone, Modi government has taken several steps. The Prime Minister’s vision of New India is a path breaking initiative for putting the country on the path of prosperity and progress.

 Chief Minister said that Prime Minister Mr. Narendra Modi and his government has special affection for Uttarakhand. He said that whether it is road connectivity, air and railway services, rural electrification or solar projects, organic farming and cooperative, development of the new tourist destinations, approval of Science City in Dehradun, international level convention center in Rishikesh, reconstruction work of Sri Kedarnath Dham or ‘Namame Gange’ Programme, the union government has always kept the state along in its journey of development.

 Chief Minister said that Rs 12,000 crore Char Dham All Weather Road, Rs 13,000 crore ‘Bharatmala’ Project, expansion of the Rishikesh-Karanprayag railway line in the form of ‘Char Dham’ circuit, are all gifts of the Modi Government to Uttarakhand. Along with it, in view of state’s geographical conditions, the central government, under the ‘Udan’ Scheme, has given approval to connect all major airstrips of the state and 27 helipads with air services. He further said that union government has also agreed to include Tehri and all other Lakes of state in its Sea Plane Project. Dehradun, Haridwar and Haldwani would get a ring road. More than 22 roads have been granted approval by the National Highway. Union government is extending all cooperation for the Kandi route for connectivity with Garhwal-Kumaon. From Tanakpur to Pithoragarh and Ramgarh- Chaukhutiya,  Railway Lines would also be developed.

 Chief Minister said that with PMs ‘Ayushman Bharat’ Scheme, 5.38 lakh families in Uttarakhand would be benefitted. While expanding the scheme, the State government has decided to bring 20 lakh families under the ‘Ayushman Bharat Ayushman Uttarakhand’. From coming August 15, this scheme would be launched.

 Under the ‘Namame Gange’ Programme, the centre government was extending every possible support to the state government. Recently, Uttarkashi, Dehradun, Dehradun, Kedarnath and Srikot have also been included in the programme. Under the ‘Namame Gange’ Programme, in Haridwar, foundation stone and inauguration, of 34 projects, worth Rs. 918.94 crores, has been done.

 Under the ‘Pradhan Mantri Awaas Yojna’, more than 1 lakh families would be provided affordable accommodation would be provided. Dehradun has been selected for the Smart City project. Prime Minister himself is regularly monitoring the reconstruction work of Sri Kedarnath Dham. PM himself has laid foundation stones of five reconstruction schemes in Kedarnath Dham.

 In the state, under the ‘Saubhagya Yojana’, 3,17,595 houses are being provided electricity connection. Under ‘Ujjwala Yojana’, free of cost LPG connections are being provided to the women from the poor strata. Under the PM Skill Development Program, in next 3 years, more than 50,000 youth would be made skilled. Under the ‘Ujala Yojana’, to promote the use of the LED bulbs, the state government has made LED bulbs mandatory in all the government buildings. In order to provide LED bulbs easily, ‘Ujala Mitra Yojana’ has been implemented.

 Under the ‘Deen Dayal Upadhyaya Grameen Vidyutikaran Yojana’, all the villages in the state have been electrified.  For the underground laying of the power cables in Kumbh area of Hardwar, foundation stone of the works worth Rs 200 crore have been laid and in principle approval for additional Rs 200 crores has also been received. Under the ‘Swachh Bharat Abhiyan’, Uttarakhand has become the fourth ODF state in the country. And, in the urban areas, all the city civic bodies have declared as ODF.

 In order to complete the target set by the Prime Minister to double the farmers income by year 2020, the state government has taken concrete steps. Under the ‘Deen Dayal Upadhyay Kisan Kalyan Yojana’, loan upto Rs 1 lakh is being disbursed at mere interest rate of 2 per cent. In order to strengthen the hands of the state government, the union government has sanctioned Rs 1500 crores for organic farming and Rs 2600 crores for cooperative works.

 The number of farmers’ machinery banks has also been increased and a provision of Rs 10 lakhs has been kept for each bank. Chief Minister, while wishing good health and well-being of Prime Minister Mr. Narendra Modi, has expressed hope that in coming years, under Mr. Modi’s leadership, India would continue to progress at a fast pace.

देहरादून 25 मई, 2018-मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार के सफल चार वर्ष पूर्ण होने पर प्रधानमंत्री मोदी एवं देशवासियों को बधाई दी है। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि इन चार वर्षों में भारत वर्ष ने आर्थिक, सामाजिक समृद्धि एवं विकास की नई ऊँचाइयों को छुआ है। अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर देश की मान-प्रतिष्ठा में अभूतपूर्व वृद्धि हुई है। देश के चहुमुखी विकास और सभी के कल्याण के लिये मोदी सरकार ने ढेरों कदम उठाए हैं। प्रधानमंत्री का न्यू इण्डिया का विजन देश को खुशहाली और तरक्की के रास्ते पर ले जाने के लिये एक बड़ा पथ प्रदर्शक है।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि उत्तराखण्ड के प्रति प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उनकी सरकार के मन में विशेष स्नेह है। चाहे वह रोड कनेक्टिविटी हो या हवाई एवं रेल सेवाएं, चाहे ग्रामीण विद्युतीकरण हो या सोलर परियोजना, चाहे वह आर्गेनिक फार्मिंग हो अथवा सहकारिता, नये पर्यटन स्थलों का विकास हो, देहरादून में साईंस सिटी को मंजूरी हो, ऋषिकेश में अन्तर्राष्ट्रीय स्तर का कन्वेन्शन सेण्टर हो, श्री केदारनाथ धाम का पुनर्निर्माण हो, नमामिगंगे परियोजना हो, राज्य को केन्द्र सरकार ने विकास की यात्रा में सदैव अपने साथ रखा है।
12 हजार करोड़ रूपये की चारधाम ऑल वेदर रोड, 13 हजार करोड़ रूपये की भारतमाला परियोजना, ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेलवे लाइन का चार धाम रेल सर्किट के रूप में विस्तारीकरण उत्तराखंड को मोदी सरकार का तोहफा है। इसके साथ ही राज्य की भौगोलिक परिस्थितियों को देखते हुए केंद्र सरकार ने उड़ान योजना के अंतर्गत राज्य की सभी प्रमुख हवाई पट्टियों तथा 27 हैलीपैड को हवाई सेवाओं से जोड़ने की सहमति दी है। राज्य की टिहरी झील सहित सभी बड़ी झीलों के लिए केंद्र सरकार सी-प्लेन योजना पर भी सहमत हो गई है। देहरादून, हरिद्वार एवं हल्द्वानी को रिंग रोड मिलेगी। 22 से अधिक सड़कों को नेशनल हाईवे की मंजूरी दी गई। गढ़वाल-कुमाऊं की कनेक्टिविटी के लिए कंडी मार्ग हेतु भी केंद्र सरकार पूरा सहयोग कर रही है। टनकपुर से पिथौरागढ़-बागेश्वर एवं रामगढ़- चौखुटिया रेल मार्ग का भी विकास होगा।
प्रधानमंत्री के आयुष्मान भारत के संकल्प में उत्तराखंड के लगभग 5.38 लाख परिवार लाभान्वित होंगे। राज्य सरकार ने इस संकल्प को विस्तारित करते हुए प्रदेश के 20 लाख परिवारों को आयुष्मान भारत आयुष्मान उत्तराखंड के अन्तर्गत लाने का निर्णय लिया है। आगामी 15 अगस्त में यह योजना लॉन्च कर दी जाएगी।
नमामिगंगे परियोजना के अंतर्गत केंद्र सरकार राज्य सरकार को हरसंभव सहयोग दे रही है। अभी हाल ही में उत्तरकाशी, देहरादून, केदारनाथ और श्रीकोट को भी इस परियोजना में शामिल कर लिया गया है। नमामिगंगे परियोजना के अन्तर्गत हरिद्वार में 918.94 करोड़ रूपये की 34 योजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया गया।
प्रधानमंत्री आवास योजना में प्रदेश के 1 लाख से अधिक परिवारों को सस्ता आवास मुहैया कराया जाएगा। देहरादून को स्मार्ट सिटी परियोजना हेतु चयनित किया गया है। श्री केदारनाथ धाम के पुनर्निर्माण का प्रधानमंत्री स्वयं नियमित अनुश्रवण कर रहे हैं। प्रधानमंत्री ने स्वयं केदारनाथ धाम में पांच पुनर्निर्माण योजनाओं का शिलान्यास किया है।
प्रदेश में सौभाग्य योजना के अन्तर्गत कुल 3 लाख 17,595 घरों को विद्युत संयोजन दिया जा रहा है। उज्ज्वला योजना के अन्तर्गत गरीब परिवार की महिलाओं को निशुल्क गैस कनेक्शन प्रदान किया जा रहा है। प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के अन्तर्गत अगले 03 वर्षों में 50 हजार से अधिक युवाओं को स्किल्ड बनाया जायेगा। उजाला योजना के अन्तर्गत एल.ई.डी. बल्वों के प्रयोग को बढावा देने के लिए प्रदेश सरकार ने सभी सरकारी भवनों के लिए एल.ई.डी. बल्ब अनिवार्य कर दिया गया है। आम जनता को एल.ई.डी. सुलभ कराने के लिये उजाला मित्र योजना लागू की गई है।
दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण विद्युतीकरण योजना में प्रदेश के सभी गांव शत-प्रतिशत विद्युतीकृत हो चुके हैं। हरिद्वार कुंभ क्षेत्र सहित पूरे नगर क्षेत्र में विद्युत लाइनें भूमिगत करने के लिए 200 करोड रुपए के कार्यों का शिलान्यास हुआ है तथा अतिरिक्त 200 करोड रुपए के कार्यों को सैद्धांतिक सहमति प्राप्त हो गई है। स्वच्छ भारत अभियान के अन्तर्गत उत्तराखण्ड देश का चौथा ओ.डी.एफ. राज्य बन चुका है। तथा शहरी क्षेत्रों में भी सभी नगर निकायों ने स्वयं को ओ.डी.एफ. घोषित कर दिया है।
 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने के लक्ष्य को पूरा करने की दिशा में राज्य सरकार ने मजबूत कदम उठाए हैं। दीनदयाल उपाध्याय किसान कल्याण योजना के अंतर्गत 1 लाख रूपये तक का ऋण मात्र 2 प्रतिशत ब्याज पर दिया जा रहा है। केंद्र सरकार ने राज्य सरकार के हाथों को मजबूत करते हुए 1500 करोड रुपए ऑर्गेनिक फार्मिंग तथा 2600 करोड़ रुपए सहकारिता के कार्यों के लिए मंजूर किए हैं। किसान मशीनरी बैंकों की संख्या भी बढ़ा दी गई है तथा प्रत्येक बैंक के लिए 10 लाख रुपए का प्रावधान किया गया है।
मुख्यमंत्री रावत ने प्रधानमंत्री श्री मोदी के अच्छे स्वास्थ्य एवं कुशलता की कामना करते हुए आशा व्यक्त की है कि आने वाले वर्षों में उनके नेतृत्व में भारत वर्ष इसी प्रकार दिन दोगुनी रात चौगुनी  तरक्की करता रहेगा।

LEAVE A REPLY