प्रधानमंत्री का चार वर्ष का कार्यकाल ऐतिहासिक-‘निशंक’

0
8023
Reading Time: 1 minute

देहरादून(25.5.18)-उत्तराखण्ड के पूूर्व मुख्यमंत्री, सभापति, सरकारी आश्वासन समिति एवं सांसद, संसदीय क्षेत्र हरिद्वार डाॅ0 रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने केन्द्र में भाजपा सरकार के चार वर्ष पूर्ण होने पर कहा कि अभी तक की उपलब्धियां अपने आप में एक रिकार्ड है।
आदरणीय मोदी जी ने गरीब को बैकिंग का हक देने के लिए जन धन योजना, हर माँ का ख्याल रखते हुए निःशुल्क एल.पी.जी. गैस कनेक्शन, हर घर को रोशन करने के लिए निशुल्क विद्युत कनेक्शन, किसानों के हितों की संरक्षा के लिए फसल बीमा योजना, किसानों के हितों के संरक्षण के लिय फसल बीमा योजना, युवाओं को स्वरोजगार के लिए प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, प्रसूती महिलाओं को राहत देते हुए 3 माह के मातृत्व अवकाश को बढ़ाकर 6 माह किया गया, गंगा की निर्मलता अविरलता के लिय नमामि गंगे योजना से गंगा घाटों एवं उनके संवर्द्धन का कार्य प्रारम्भ किया, शहरों को व्यवस्थित करने की दृष्टि से स्मार्ट सिटी एवं अमृत योजना, वर्षों से सैनिकों की वन रैंक वन पैंशन को मोदी सरकार ने पूर्ण किया। एक कर एक देश जी.एस.टी. लागू कर स्वच्छ व्यापार प्रणाली को बढ़ाया दिया है। मेक इन इण्डिया, डिजीटल इण्डियाल, स्टार्ट अप-स्टैण्ड अप सहित कई योजनाओं, जो कि निकट भविष्य में भारत को एक महाशक्ति के रूप में स्थापित करेंगी।
वहीं उत्तराखण्ड की दृष्टि से मोदी जी के चार वर्ष का कार्यकाल बहुत ऐतिहासिक रहा है। अटल ने बनाया मोदी जी संवारेंगे को मोदी सरकार बखूबी अमली जामा पहना रही है। चारधाम महायोजना के लिय जहाँ 12 हजार करोड़ से अधिक धनराशि स्वीकृत की वहीं, रेल मार्ग को कर्णप्रयाग तक जोड़ने का कार्य प्रारम्भ किया, भारत माला योजना के तहत् उत्तराखण्ड की सड़कों का कायाकल्प होगा वहीं अनेक राजमार्गों को राष्ट्रीय राजमार्गों में तब्दील कर धनराशि जारी कर दी गयी है। अकेले हरिद्वार क्षेत्र के लिए केन्द्र सरकार ने 1200 करोड़ की योजनाओं की सौगात दी है, जिसमें हरिद्वार में अन्डर ग्राउंड विद्युत लाइन, हर घर में अब एल.पी.जी. पाइप लाइन द्वारा पहुँचाने का कार्य प्रारम्भ हो गया है। वहीं नमामि गंगे के तहत घाटों के सौन्दर्यीकरण सहित सिवरेज ट्रीटमेंट का कार्य युद्धस्तर पर जारी है, वहीं राष्ट्रीय राजमार्ग एवं पुलों के निर्माण के लिए करोड़ों की मंजूरी दी है, जिस पर कार्य चल रहा है। रेलवे के कई ओवर ब्रिज बने हैं, वहीं लक्सर हरिद्वार रेल परियोजना का विस्तार हुआ है आजादी के बाद पहली बार डाट काली मन्दिर की बहुप्रतिक्षित सुरंग का निर्माण कार्य लगभग पूर्ण हो चुका है। अकेले हरिद्वार जनपद में 60 हजार से अधिक परिवारों को उज्जवला योजना के तहत निःशुल्क गैस कनेक्शन वितरित हो चुके हैं, लक्ष्य एक लाख का है, जिसे इसी वर्ष पूर्ण कर लिया जाएगा। रूड़की में नये पासपोर्ट की स्थापना की गई है वहीं स्कील इण्डिया के तहत अनेकों केन्द्र स्थापित किये गए जिनमें प्रशिक्षण लेकर प्रतिवर्ष कई युवाओं को रोजगार के अवसर प्राप्त हो रहे हैं। सैन्य बाहुल्य क्षेत्र (कैन्ट एरिया) के लिए भी केन्द्र सरकार ने दिल खोलकर बजट अवमुक्त किया है जिसमें अकेले क्लेमेन्ट टाऊन पेयजल योजना के लिए 18 करोड़ से अधिक धनराशि जारी की है।
डाॅ0 निशंक ने कहा कि उत्तराखण्ड की मुख्य आय के साधन तीर्थाटन एवं पर्यटन को ध्यान में रखते हुए केन्द्र की मोदी सरकार ने केदारनाथ पुर्ननिर्माण योजना के लिए भारी भरकम बजट मंजूर किया है। जिसके परिणामस्वरूप भीषण आपदा के बाद इस वर्ष यात्रियों की संख्या में जबरदस्त इजाफा हुआ है जो यहाँ की आर्थिकी के लिए महत्वपूर्ण है।

LEAVE A REPLY