लोकसभा अध्यक्ष की अध्यक्षता में उत्तराखण्ड में पहली बार सीपीए इंडिया रीजन की जोन 01 की बैठक का आयोजन

0
1178
Reading Time: 1 minute
देहरादून 28 मई, 2018-उत्तराखण्ड में पहली बार आयोजित कॉमनवेल्थ पार्लियामेंट्री एशोसिएशन(सी.पी.ए.) इण्डिया रीजन, जोनल-01 की बैठक सोमवार को आईएसबीटी स्थित एक स्थानीय होटल में आयोजित की गई। कार्यक्रम की अध्यक्षता लोकसभा अध्यक्ष श्रीमती सुमित्रा महाजन ने की।
इस अवसर पर सीपीए अध्यक्ष व लोकसभा अध्यक्ष श्रीमती सुमित्रा महाजन ने उत्तराखण्ड विधानसभा अध्यक्ष को अध्यक्षीय शोध कदम के तहत उत्तराखण्ड में कुछ नये कार्यों को करने पर बधाई दी। उन्होंने महिला सशक्तिकरण पर विचार रखते हुए कहा कि महिलाओं को देश के विकास के लिए आगे आना होगा। प्रत्येक राज्य की विधानसभा मे कुछ एक्सपर्ट्स लोगों को बुलाकर किसी एक मुद्दे को लेकर कृषि, उद्योग एवं अन्य विषयों पर चर्चा होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रदेशएक दूसरे से कैसे जुड़े और विकास की बात हो इन सब बातों को लेकर ही जोन वाइज बैठकों का आयोजन किया जा रहा है।
उत्तराखण्ड के विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने कहा कि उत्तराखण्ड में पहली बार सीपीए इंडिया रीजन की जोन 01 की बैठक का आयोजन हुआ है। इस बैठक से न सिर्फ विधानसभा में कार्य संस्कृति का एक नया बदलाव देखने को मिलेगा साथ ही विकास से जुड़े मुद्दों पर एक सार्थक पहल देखने को भी मिलेगी। उन्होंने नदियों की स्वच्छता एवं विकास पर उत्तराखण्ड में राष्ट्रीय स्तर पर एक बृहद सेमीनार आयोजित करने की अनुमति लोकसभा अध्यक्ष से माँगी।
मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने बैठक में नदियों की स्वच्छता एवं विकास विषय पर चर्चा के दौरान कहा कि जल संरक्षण को लेकर ठोस नीति बनाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि वर्षा के जल का संचय करना जरूरी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि जल संरक्षण के लिए राज्य सरकार प्रयासरत है। पिछले वर्ष ट्रेंचेज बनाकर 40 करोड़ लीटर जल का संरक्षण किया गया। जबकि इस वर्ष 70 करोड़ लीटर जल संरक्षण करने का लक्ष्य रखा गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने रिस्पना और कोसी नदी को पुनर्जीवित करने के लिए 3.5 लाख वृक्षारोपण का लक्ष्य रखा है। हरेला पर्व के अवसर पर रिस्पना के किनारे 2.5 लाख वृक्ष लगाये जायेंगे। उन्होंने कहा कि यह कार्य जन सहयोग से किया जायेगा। इसके लिए रिस्पना नदी को अलग-अलग जोन में बाँटा गया है।
बैठक में बिहार के विधान सभा अध्यक्ष श्री विजय कुमार चैधरी, उत्तर प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष श्री एच.एन.दीक्षित, झारखंड विधानसभा अध्यक्ष श्री दिनेश ओराय, दिल्ली के विधानसभा अध्यक्ष श्री रामनिवास गोयल एवं उड़ीसा विधानसभा अध्यक्ष श्री पीके आमत, लोकसभा महासचिव स्नेहलता श्रीवास्तव आदि उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY