450 old Divyangs of Haridwar area given life assisting equipment under Rashtriya Vayoshree Yojna

0
2389
Reading Time: 2 minutes

Haridwar/Dehradun 04 June, 2018: Uttarakhand Chief Minister Mr. Trivendra Singh Rawat and Union Minister of Social Justice and Empowerment Mr. Thavar Chand Gehlot distributed life assisting equipment to 450 old Divyangs of Haridwar area as part of Rashtriya Vayoshree Yojna of Union Ministry of Social Justice and Empowerment at a function held at Rishikul ground at Haridwar on Monday.

Chief Minister Mr. Trivendra Singh Rawat said that Prime Minister Mr. Narendra Modi is clear in his thoughts that the government belongs to those people who are economically and socially weak. The constitution of India gives priority to Divyangs and economically poor.   Chief Minister thanked the Prime Minister and the Union Minister Mr. Thavar Chand Gehlot for their efforts in including Uttarakhand in every scheme of the union government as a special case. In the last four years, 50 times more camps were held which benefitted the deserving people. The Chief Minister Mr. Trivendra Singh Rawat said that it has to be ensured that the benefits of the schemes launched by the central government reach maximum number of people.  He also directed the district administration to make the people aware about the welfare schemes run for Divyangs and other welfare schemes run by the central as well as the state governments so that maximum number of people could be benefitted. The Chief Minister said that anybody can lodge complaint on toll free number 1905.

 Union Minister of Social Justice and Empowerment Mr. Thavar Chand Gehlot, said that under the leadership of Prime Minister Mr. Narendra Modi, the central government has started more than 100 welfare schemes through which people are being benefitted. He said that Prime Minister Mr. Narendra Modi has taken several steps for the empowerment of old Divyangs.

Union minister Mr. Thavar Chand Gehlot said that in the last four years, equipment worth Rs.600 crore have been distributed amongst 11 lakh Divyangs of the country and 70,000 camps have been organized for them.

He said that Rashtriya Vayoshree Yojna was started last year in which 260 districts of the country have been chosen. Under this scheme, a total of 43,000 old Divyangs have been given equipment as per their requirement. More than 80 per cent of the Divyangs have been provided with motorized tri-cycles. Till date 5500 deserving people have been given motorized tri -cycles. The Union Ministry of Social Justice and Empowerment provides Divyangs with wheel chairs, tri-cycles, crutches, hearing aids, spectacles, laptop to students and smart phone. It has been decided to provide equipment worth Rs.7000 to each deserving person. The government is also providing grant for the treatment of children who are deaf and dumb. Union Minister Mr. Thavar Chand Gehlot said that another camp will be held in Haridwar soon, so that maximum number of people from the district could be benefitted.

 Haridwar Lok Sabha MP Ramesh Pokhriyal Nishank, Uttarakhand Cabinet Ministers Madan Kaushik and Yashpal Arya, legislator Deshraj Karanwal, Suresh Rathore, Swami Yatishwarnand, Adesh Chauhan, District Magistrate Deepak Rawat, SSP Krishan Kumar VK and other distinguished guest were present on the occasion .

450 वृद्ध दिव्यांगों को जीवन सहायक उपकरण वितरित, राष्ट्रीय वयोश्री योजना के अन्तर्गत

हरिद्वार/देहरादून 04 जून, 2018मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत एवं केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री श्री थावरचंद गहलोत ने सोमवार को ऋषिकुल मैदान हरिद्वार में भारत सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय की राष्ट्रीय वयोश्री योजना के अन्तर्गत हरिद्वार क्षेत्र के 450 वृद्ध दिव्यांगों को जीवन सहायक उपकरण वितरित किये।
मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की स्पष्ट सोच है कि सरकार उन लोगों के लिए होती हैं, जो आर्थिक और सामाजिक रुप से कमजोर है।
* मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत एवं केन्द्रीय मंत्री श्री थावरचंद गहलोत ने वितरित किए उपकरण।
* पिछले वर्ष प्रारम्भ की गयी, राष्ट्रीय वयोश्री योजना में देश के 260 जनपद चयनित हैं।

भारत का संविधान दिव्यांग और आर्थिक रुप से कमजोर लोगों को प्राथमिकता देता है। मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री व केन्द्रीय मंत्री श्री गहलोत का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि केंद्र की हर योजना में उत्तराखण्ड को विशेष रूप से शामिल किये जाने के प्रयास किये जा रहे हैं। पिछले 04 वर्षाें में 50 गुना अधिक शिविरों का आयोजन कर पात्र लोगों को लाभान्वित किया गया है। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि  केन्द्र सरकार की योजनाओं का लाभ लाभार्थियों को अधिक से अधिक मिल सके। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने जिला प्रशासन को दिव्यांगों के कल्याण के लिये केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के बारे में जानकारी देने एवं योजना से लाभान्वित करने के निर्देश भी दिये। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोई भी व्यक्ति अपनी शिकायत या समस्या को टोल फ्री नम्बर 1905 पर दर्ज करा सकते है।

केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार द्वारा 100 से अधिक विभिन्न कल्याणकारी योजनाएं बनाई गई है, जिनके माध्यम से लोगों को लाभान्वित करने का कार्य किया जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वृद्ध दिव्यांगों के सशक्तिकरण के लिए कई कदम उठाये है। केन्द्रीय मंत्री गहलोत ने कहा पिछले 04 वर्षाें में देशभर में 11 लाख दिव्यांगों को 600 करोड़ रूपये से अधिक की सामग्री वितरित की जा चुकी है और 07 हजार कैम्प आयोजित किये गये हैं। राष्ट्रीय वयोश्री योजना पिछले वर्ष प्रारम्भ की गयी, जिसमें देश के 260 जनपदों का चयन किया गया है। इस योजना के अन्तर्गत अभी तक 43 हजार वृद्धजनों को उनकी आवश्यकतानुसार उपकरण उपलब्ध कराये गये हंै। 80 प्रतिशत से ज्यादा दिव्यांगों को मोटराईज ट्राई साइकिल उपलब्ध करायी जा रही है। अब तक साढ़े पांच हजार पात्र लोगों को मोटराईज ट्राईसिकल दी जा चुकी है। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय द्वारा दिव्यांगों को व्हील चेयर, ट्राईसाईकिल, बैसाखी, सुनने की मशीन, चश्मा एवं पढ़ने वाले बच्चों को लेपटाॅप, स्मार्टफोन आदि वितरित किये जा रहे हैं। प्रत्येक पात्र व्यक्ति को 7500 रूपये तक की सामग्री देने का निर्णय लिया गया है। ऐसे बच्चे जो बोल व सुन नहीं सकते है, उनके उपचार के लिये सरकार अनुदान दे रही है। केन्द्रीय मंत्री श्री गहलोत ने कहा कि हरिद्वार में इस तरह का एक शिविर और लगाया जायेगा, जिससे जनपद के पात्र लोगों को अधिक से अधिक लाभान्वित किया जा सके।
इस अवसर पर सांसद हरिद्वार डाॅ.रमेश पोखरियाल ’निशंक’, कैबीनेट मंत्री श्री मदन कौशिक,  श्री यशपाल आर्य, विधायक श्री देशराज कर्णवाल, श्री सुरेश राठौर, श्री यतीश्वरानंद, श्री आदेश चैहान, जिलाधिकारी श्री दीपक रावत, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री कृष्ण कुमार वीके सहित अन्य गणमान्य उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY