केदारनाथ पुनर्निर्माण में क्या-क्या बदलाव आया ? जानने के लिये क्लिक करें

0
2951
देहरादून 07 जून, 2018-प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को गुरूवार को नई दिल्ली में मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की तैयारियों की जानकारी दी। इसके साथ ही मुख्य सचिव ने श्री केदारनाथ पुनर्निर्माण कार्यों की प्रगति से भी प्रधानमंत्री को अवगत कराया।
वन अनुसंधान संस्थान, देहरादून में आयोजित होने वाले सामूहिक योग प्रदर्शन के बारे में मुख्य सचिव ने बताया कि ऑनलाइन और ऑफ लाइन पंजीकरण का कार्य शुरू कर दिया गया है। विभिन्न आयोजन समितियों का गठन कर दिया गया है। आयोजन स्थल तक लोगों को लाने और ले जाने की सुविधा के लिए 1000 बसों की व्यवस्था की गई है। रुट चार्ट बना लिया गया है। आईआरडीटी में एक कंट्रोल रूम स्थापित कर दिया गया है। देहरादून और हरिद्वार में विभिन्न स्थानों पर दो सप्ताह का प्रशिक्षण संचालित किया जा रहा है। गुरुवार को कर्टेन रेजर कार्यक्रम किया गया। इसमें बड़ी संख्या में योग गुरुओं और प्रतिष्ठित लोगों ने प्रतिभाग किया।
श्री केदारनाथ पुनर्निर्माण के संबंध में मुख्य सचिव ने अवगत कराया कि मंदिर चबूतरे का विस्तार 1500 वर्ग मीटर से 4125 वर्ग मीटर कर दिया गया है। मंदाकिनी और सरस्वती नदी संगम स्थल से 270 मीटर दूरी तक मंदिर का खुला दृश्य दिखाई दे रहा है। इस मार्ग की चैड़ाई 50 फीट कर दी गई है। मार्ग के दोनों किनारों पर केबल और ड्रेनेज के लिए डक्ट बनाये जा रहे हैं। सरस्वती नदी पर 470 मीटर और मंदाकिनी नदी पर 380 मीटर की सुरक्षा दीवार बनाई जा रही है। गरुड़चट्टी पैदल मार्ग पुनर्निर्माण के बारे में बताया कि 3.5 किलोमीटर कटाई और 700 मीटर सतह सुधार कार्य पूरा हो गया है। वर्तमान में एकमात्र पैदल मार्ग गौरीकुंड से लिंचैली होते हुए श्री केदारनाथ मार्ग का चैड़ीकरण पूरा हो गया है।
श्री केदारनाथ पुनर्निर्माण के बारे में वेबसाइट shrikedarnathcharitabletrust.uk.gov.in लांच कर दिया गया है। मुख्य सचिव श्री सिंह ने बताया कि मंदाकिनी के दाहिने तट से लगभग 150 मीटर ऊंचाई पर मौन साधना स्थल का चयन कर निर्माण कार्य शुरू कर दिया गया है। श्री केदारनाथ धाम के महात्म्य पर केदारगाथा मोबाइल एप्प विकसित किया गया है। समस्त केदारपुरी और पड़ावों पर फ्री वाईफाई सुविधा दी जा रही है। इसके लिए 10 सेक्टर एंटेना लगाए गए हैं। जीएमवीएन द्वारा डिजिटल ट्रांजेक्शन शुरू कर दिया गया है। गुजरात सरकार के सहयोग से अलंग(गुजरात) शिप ब्रेकिंग यार्ड से 6 टन रबर मैट प्राप्त हो गए हैं। यात्रियों की सुविधा के लिए रबर मैट विभिन्न स्थानों पर बिछाये गए हैं।
मुख्य सचिव ने प्रधानमंत्री को अवगत कराया कि श्री केदारनाथ मंदिर के खुले आंगन और प्रांगण से श्रद्धालुओं में उत्साह है। इस बार रिकॉर्ड यात्री श्री केदारधाम पहुंच रहे हैं। विगत वर्षों में पूरे यात्रा सीजन में जितने यात्री आते थे, उतने यात्री अब तक दर्शन कर चुके हैं। अभी तक साढ़े पांच लाख से अधिक श्रद्धालु/यात्री श्री केदारनाथ के दर्शन कर चुके हैं।

LEAVE A REPLY