केन्द्रीय योजनाओं के क्रियान्वयन के लिये राज्य में प्रभावी तंत्र विकसित किया गया है-मुख्यमंत्री

0
654
Reading Time: 1 minute
देहरादून 18 जून, 2018-मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत से सोमवार को मुख्यमंत्री आवास में केन्द्रीय ग्रामीण विकास राज्यमंत्री श्री रामकृपाल यादव ने शिष्टाचार भेंट की। केन्द्रीय राज्यमंत्री श्री यादव ने राज्य में ग्रामीण विकास से सम्बन्धित संचालित योजनाओं के क्रियान्वयन पर सन्तोष व्यक्त किया। उन्होंने मुख्यमंत्री को आश्वस्त किया कि योजनाओं के क्रियान्वयन में आ रही कठिनाईयों के निराकरण से सम्बन्धित सुझाओं पर केन्द्र सरकार के स्तर पर अमल किया जायेगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के साथ ही पीएमजीएसवाई के अन्तर्गत गांवों को सड़क से जोड़ने से सम्बन्धित योजनाओं के क्रियान्वयन में और तेजी लायी जाय।
मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द ने कहा कि केन्द्रीय योजनाओं के क्रियान्वयन के लिये राज्य में प्रभावी तंत्र विकसित किया गया है। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत गत वर्ष 64 पीआईयू गठित किये गये थे, जबकि इस वर्ष 29 पीआईयू और स्थापित किये जा रहे है ताकि राज्य के शेष 554 बसावटों को सड़क से जोडने के कार्य में और तेजी लायी जा सके। उन्होंने कहा कि इन सड़कों के निर्माण में तेजी से कार्य हो इसके लिये शीघ्र ही सभी जिलाधिकारियों, डीएफओ व कार्यदायी संस्थाओं के प्रतिनिधियों के साथ वीडियों कांफ्रेसिंग के माध्यम वार्ता कर समस्याओं का निराकरण किया जायेगा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने योजनाओं के क्रियान्वयन में राज्य की भौगोलिक स्थिति को देखते हुए नीति आयोग के अधीन पृथक पर्वतीय प्रकोष्ठ गठित करने का सुझावा रखा है। मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय मंत्री से यह भी अपेक्षा की कि प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत 250 की आबादी के मानकों को घटाकर 100 किया जाय। इसी प्रकार उन्होंने सड़कों के आकस्मिक अनुरक्षण के अन्तर्गत भी धनराशि का प्राविधान किये जाने पर बल दिया।
इस अवसर पर राज्य मंत्री डाॅ.धन सिंह रावत,  विधायक श्री मुन्ना सिंह चैहान, मुख्यमंत्री के औद्योगिक सलाहकार श्री के.एस.पंवार, प्रमुख सचिव श्रीमती मनीषा पंवार, अपर सचिव डाॅ.राम विलास यादव, निदेशक रूरल हाउसिंग भारत सरकार श्री वीसी बेहरा सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारी आदि उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY