सरकारी जमीन पर अवैध अतिक्रमण करने वालों पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही

0
1777
देहरादून 03 जुलाई, 2018-सरकारी जमीन पर अवैध अतिक्रमण करने वालों पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जायेगी। अवैध अतिक्रमण करने वाले किसी भी कीमत पर बख्शे नही जायेंगे। आवासीय भवनों में नियम विरूद्ध व्यावसायिक गतिविधियां संचालित करने वालों पर भी कार्यवाही की जा रही है। मंगलवार को यह जानकारी देते हुए अपर मुख्य सचिव श्री ओमप्रकाश ने बताया कि जन सामान्य हेतु बनाये गये फुटपाथों, गलियों, सड़कों एवं अन्य स्थलों पर किये गये अनधिकृत निर्माणों एवं अवैध अतिक्रमणों को ध्वस्त किये जाने की कार्यवाही के दौरान मंगलवार को 504 कार्मिकों द्वारा 140 अवैध अतिक्रमणों को ध्वस्त किया गया है। 1411 कार्मिकों द्वारा 317 अतिक्रमणों का चिन्ह्किरण एवं 82 कार्मिकों द्वारा 04 भवन के सीलिंग का कार्य किया गया है।
अपर मुख्य सचिव श्री ओमप्रकाश ने बताया कि देहरादून शहर में अवैध अतिक्रमणों को ध्वस्त किये जाने की कार्यवाही तीव्र गति से की जा रही है। अतिक्रमण हटने के बाद शहर में लगने वाले ट्रैफिक जाम से निजात मिलेगा। शहर की सड़कों, नाली और फुटपाथ से अवैध अतिक्रमण हटने का लाभ प्रत्येक नागरिक को मिलेगा। उन्होंने बताया कि अवैध अतिक्रमणों को ध्वस्त किये जाने की कार्यवाही में जन मानस का पूरा सहयोग मिल रहा है। उन्होंने बताया कि सरकारी जमीन पर अवैध अतिक्रमण करने वालों पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जायेगी। अवैध अतिक्रमण करने वाले किसी भी कीमत पर बख्शे नही जायेंगे। उन्होंने बताया कि आवासीय भवनों में नियम विरूद्ध व्यावसायिक गतिविधियां संचालित करने वालों पर भी कार्यवाही की जा रही है।
अतिक्रमण हटाओ अभियान टास्क फोर्स के अध्यक्ष/उपाध्यक्ष एम.डी.डी.ए. श्री आशीष श्रीवास्तव ने बताया कि शहर की सड़कों से अवैध अतिक्रमणों को ध्वस्त करने हेतु शहर के चार जोन में एसडीएम, सीओ, लोनिवि सहित अन्य अधिकारी तैनात किये गये है। श्री श्रीवास्तव ने बताया कि अवैध अतिक्रमणों को तीव्र गति से ध्वस्त किये जाने के लिये अन्य जनपदों से कार्मिकों की मांग के लिये अनुरोध किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जिन अवैध भवनों पर निशान लगाये गये है, कुछ  भवन स्वामियों व व्यापारियों द्वारा स्वयं ही अपने अतिक्रमणों को हटाया जा रहा है, जिनके द्वारा अतिक्रमण हटाया नही जा रहा है, उन अवैध अतिक्रमणों को नियमानुसार हटाये जाने की कार्यवाही गतिमान है।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुश्री निवेदिता कुकरेती ने बताया कि अवैध अतिक्रमणों को हटाये जाने के दौरान पुलिस विभाग का पूरा सहयोग प्रदान किया जा रहा है। किसी भी प्रकार के विवाद उत्पन्न होने की स्थिति में पुलिस फोर्स को तैनात किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि अवैध अतिक्रमणों के ध्वस्तीकरण के दौरान पुलिस बल तैनात है।

LEAVE A REPLY