Death penalty for minor girl rape convict in state-CM Trivendra

0
4469
Reading Time: 1 minute

Dehradun 12 July, 2018 –Chief Minister Mr. Trivendra Singh Rawat in an informal interaction with the media on Thursday said that provision of strictest punishment for criminals for heinous crimes such as rape with minor girls is required. Therefore, provision for the death penalty for the convict of raping minor girls in the state would be made, so that such heinous crimes can be stopped. He said that a bill will be introduced in this regard in the forthcoming assembly session.

On the question of the loss due to heavy rain in the state, Chief Minister said that for this, amount of Rs 50-50 lakhs has been given to all the District Magistrates and added that all the District Magistrates have been instructed to provide quick relief and support to the disaster victims. Chief Minister said that it takes time to assess the damage caused by the disaster but it is our priority to get it done as soon as possible to ensure that affected can get relief. He said that the shortage of funds will not be allowed to help the disaster victims.

देहरादून 12 जुलाई, 2018-मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गुरूवार को मीडिया से अनौपचारिक वार्ता करते हुए कहा कि नाबालिक बच्चियों के साथ रेप जैसे जघन्य अपराधों के लिये अपराधियों को कड़ी से कड़ी सजा का प्रावधान किया जाना समीचीन लगता है। इसलिए प्रदेश में माईनर बच्चियों के साथ होने वाली रेप जैसी दुर्घटनाओं में अपराधी को फांसी की सजा दिये जाने का प्राविधान किया जायेगा, ताकि इस प्रकार की जघन्य अपराधों पर रोक लगाई जा सके। उन्होंने कहा कि आगामी विधानसभा सत्र में इस सम्बंध में विधेयक लाया जाएगा।
प्रदेश में भारी वर्षा से हुए नुकसान के सवाल पर मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि इस हेतु सभी जिलाधिकारियों को 50-50 लाख रूपये की धनराशि दी जा चुकी है, उन्होंने कहा कि जिलाधिकारियों को निर्देश दिये गये हैं कि आपदा पीड़ितों को त्वरित राहत एवं अहेतुक सहायता उपलब्ध करायी जाय। मुख्यमंत्री ने कहा कि आपदा से हुए नुकसान का आंकलन के कार्य में समय लगता है फिर भी हमारी कोशिश है कि शीघ्र अतिशीघ्र इसका आंकलन कर लिया जाए ताकि प्रभावितों को राहत पहुंचाई जा सके। उन्होंने कहा कि आपदा पीड़ितों की मदद के लिये धनराशि की कमी नही होने दी जायेंगी।

LEAVE A REPLY