74 illegal encroachments demolished, 134 identified during anti-encroachment drive on Monday/ सोमवार तक कुल 3121 अवैध अतिक्रमणों का ध्वस्तीकरण, 5615 अतिक्रमणों का चिन्हीकरण व 108 भवनों के सीलिंग का कार्य सम्पादित

0
2263

Dehradun 30 July, 2018 –Additional Chief Secretary Om Prakash has informed that in pursuance of orders of honorable court, the exercise of demolition, identification of illegal encroachments and illegal constructions on footpaths, lanes, roads and other places and sealing of illegal encroachments in Dehradun city by Mussoorie- Dehradun Development Authority, Municipal Corporation, Dehradun and district administration has been going on.

Under the anti-encroachment drive on Monday, 74 illegal encroachments were demolished and 134 illegal encroachments were identified. Till date, a total of 3121 illegal encroachments have been demolished, 5615 illegal encroachments have been identified and 108 buildings sealed during the anti-encroachment drive.

Additional Chief Secretary Om Prakash on Monday, reviewed the campaign to remove encroachments, identification of encroachments, sealing of buildings and further action with anti-encroachment task force officials at a meeting held at Women Industrial Training Institute, RDT Auditorium at Survey Chowk. Om Prakash gave strict Instructions to District Magistrate Dehradun , City Commissioner and Secretary ,MDDA that any encroachers if found  indulging in obstructing or misbehaving with the officers and employees of anti-encroachment task force then police FIR should be lodged against such persons for obstructing the official work. Secretary MDDA P.C. Dumka informed the Additional Chief Secretary that an encroacher misbehaved with the employees involved in removing encroachment. Additional Chief Secretary Om Prakash taking cognizance of the incident instructed that FIR should be immediately lodged against that person and the information in this regard should be provided to him. Secretary MDDA informed the Additional Chief secretary that some persons have again encroached upon public land. Additional Chief Secretary instructed that FIR under relevant sections of the IPC should be registered against such persons and action to remove the said encroachments should be undertaken immediately.  Om Prakash said that in future also if anyone indulges in encroachment again, FIR should be lodged and action should be ensured against them.

Additional Chief Secretary Om Prakash said that lack of sanitation and lying of garbage in and around Parade ground which is known as “Heart of Dehradun” is regrettable.  He instructed the City Commissioner to ensure cleanliness in and around parade ground and others parts of the city. He said that disposal of garbage should be done speedily. Additional Chief Secretary Om Prakash along with City Commissioner will personally inspect the areas around parade ground on Tuesdayevening. Om Prakash Instructed City Commissioner that “Sunday market” in Dehradun should not be allowed at any cost so that there is no traffic congestion at places where such market is held for anti-encroachment task force to carry out it’s task of removing encroachment easily. He said that FIR would be lodged against any person putting up any stall or cart to sell goods around parade ground.

District Magistrate S.A. Murugesan, Chief City Commissioner Vijay Kumar Jogdande, Under Secretary Dinesh Kumar Punetha, PWD and officials involved with anti-encroachment drive were present in the meeting.

देहरादून 30 जुलाई, 2018-अपर मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने बताया कि मा.न्यायालय के निर्देशों के क्रम में देहरादून शहर में मसूरी-देहरादून विकास प्राधिकरण, नगर निगम देहरादून एवं जिला प्रशासन देहरादून द्वारा जन सामान्य हेतु बनाये गये फुटपाथों, गलियों, सड़कों एवं अन्य स्थलों पर किये गये अनधिकृत निर्माणों एवं अवैध अतिक्रमणों में ध्वस्तीकरण, चिन्हांकन व सीलिंग का कार्य निरन्तर किया जा रहा है। सोमवार को इस अभियान के अन्तर्गत 74 अवैध अतिक्रमणों के ध्वस्तीकरण व 134 अतिक्रमणों के चिन्हीकरण का कार्य सम्पादित किया गया है। इस प्रकार अब तक कुल 3121 अवैध अतिक्रमणों का ध्वस्तीकरण, 5615 अतिक्रमणों का चिन्हीकरण व 108 भवनों के सीलिंग का कार्य सम्पादित किया जा चुका है।

अपर मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने सोमवार को महिला औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान, सर्वे चौक स्थित आई.आर.डी.टी. सभागार में अतिक्रमण हटाओ टास्क फोर्स के अधिकारियों के साथ अवैध अतिक्रमणों के ध्वस्तीकरण, अतिक्रमणों के चिन्हीकरण व अवैध भवनों में किये जा रहे सीलिंग व इस संबंध में आगामी कार्ययोजना की समीक्षा की। श्री ओमप्रकाश ने जिलाधिकारी देहरादून, नगर आयुक्त व सचिव एमडीडीए को सख्त निर्देश दिये है कि अतिक्रमण हटाने के दौरान यदि किसी भी अतिक्रमणकारी द्वारा अतिक्रमण हटाने के कार्य में लगे हुए अधिकारियों व कर्मचारियों के साथ बदसलूकी की जाती है, तो ऐसे व्यक्तियों के खिलाफ शासकीय कार्यों में बाधा डालने पर उनके विरूद्ध तत्काल एफआईआर दर्ज की जाए।
सचिव एम.डी.डी.ए. श्री पी.सी.दुमका ने अपर मुख्य सचिव को अवगत कराया कि सोमवार को अतिक्रमण हटाने के दौरान एक अतिक्रमणकारी द्वारा अतिक्रमण हटाने के कार्य में लगे कर्मचारी के साथ बदसलूकी की गई है। इस पर अपर मुख्य सचिव श्री ओमप्रकाश ने उस व्यक्ति के खिलाफ तत्काल एफ.आई.आर. दर्ज कराते हुए इसकी सूचना तत्काल उपलब्ध कराने के निर्देश दिये है। सचिव एमडीडीए ने अपर मुख्य सचिव को अवगत कराया कि कुछ लोगों द्वारा पुनः अतिक्रमण किया गया है। इस पर अपर मुख्य सचिव ने निर्देश दिये कि ऐसे लोगों के विरूद्ध आई.पी.सी. की धाराओं के अन्तर्गत एफ.आई.आर. दर्ज कराते हए अतिक्रमण को ध्वस्त किये जाने की कार्यवाही भी तत्काल सुनिश्चित की जाए। श्री ओमप्रकाश ने कहा कि जो लोग भविष्य में दुबारा अतिक्रमण करते है, ऐसे लोगों के विरूद्ध आई.पी.सी. की धाराओं के अन्तर्गत एफ.आई.आर. दर्ज करने की कार्यवाही भी सुनिश्चित की जाएगी।
अपर मुख्य सचिव श्री ओमप्रकाश ने कहा कि परेड ग्राउण्ड जिसे देहरादून शहर का ’’हार्ट ऑफ सिटी’’ कहा जाता है। इसके आस-पास गंदगी व सफाई व्यवस्था न होना बहुत ही दुखद बात है। उन्होंने नगर आयुक्त को निर्देश दिये है कि परेड ग्राउण्ड सहित देहरादून शहर के विभिन्न स्थानों पर सफाई व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। उन्हांने कहा कि कूडे उठाने का कार्य जल्द से जल्द त्वरित गति से सम्पादित किया जाए। मंगलवार सायं अपर मुख्य सचिव श्री ओमप्रकाश संयुक्त रूप से नगर आयुक्त के साथ परेड ग्राउण्ड व उसके आस-पास के स्थानों का निरीक्षण करेंगे। श्री ओमप्रकाश ने नगर आयुक्त को निर्देश दिये कि देहरादून में लगने वाले संडे मार्केट को किसी भी दशा में न लगने दिया जाए, जिससे की संडे मार्केट लगने वाले स्थान के आस-पास यातायात का दबाव कम रहे व टास्क फोर्स द्वारा अवैध अतिक्रमणों के ध्वस्तीकरण की कार्यवाही सुगमता से सम्पादित की जा सके। उन्होंने कहा कि यदि कोई व्यक्ति संडे मार्केट व परेड ग्राउण्ड के आस-पास रेहडी-ठेली लगाता है, तो ऐसे व्यक्ति के खिलाफ भी एफ.आई.आर. दर्ज की जाए।
बैठक में जिलाधिकारी श्री एस.ए.मुरूगेशन, मुख्य नगर आयुक्त श्री विजय कुमार जोगदंडे, अनु सचिव श्री दिनेश कुमार पुनेठा, लो.नि.वि. सहित अतिक्रमण हटाओ अभियान से जुडे संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY