CM Rawat felicitated for bringing ordinance on slums/ 03 साल के अन्दर गरीबों को छत दे सकें और कानून का भी पालन हो-मुख्यमंत्री

0
2272

Dehradun 01 August, 2018-Uttrakhand Chief Minister Mr. Trivendra Singh Rawat participated in a function organized by Mussoorie legislator Ganesh Joshi to felicitate him for bring an ordnance by the state government to save the slums held at a local wedding point on Canal road on Wednesday. Chief minister Mr. Trivendra Singh Rawat said that the his government faced a big challenge to save the houses of the poor people living in the slums before providing them alternate houses. More than two lakh poor people were affected and it was a problem that where they will go in the rainy season.

He said that keeping in view the practical problem faced by the slum dwellers, the state government has sought time of three years. In the coming three years, the state government will solve the housing problem facing the slum dwellers. “ We have decided to provide roof to the poor in the next three years and also abide by the law,” he said.

Chief Minister said that the Prime Minister Mr. Narender Modi has resolved to provide house, electricity, gas connection to everyone in the country by 2020 and we have to unitedly support him to fulfill his resolve.

Ajay Bhatt, State BJP chief, Harbans Kapoor, Legislator, BJP leader Sunil Uniyal ‘Gama’, BJP spokes person Baljit Soni, Mandal president Poonam Nautiyal and other were present on the occasion.

देहरादून 01 अगस्त, 2018-मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने बुधवार को कैनाल रोड स्थित एक स्थानीय वैडिंग प्वाइंट में मलिन बस्तियों को उजड़ने से बचाने के लिए राज्य सरकार द्वारा अध्यादेश लाने पर मसूरी विधायक श्री गणेश जोशी द्वारा आयोजित सम्मान समारोह में प्रतिभाग किया।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि राज्य सरकार के समक्ष एक बड़ी समस्या उत्पन्न हो गई थी कि मलिन बस्तियों में रहने वाले गरीब परिवारों के घरों को कैसे बचाया जा सके, जब तक उनको घर उपलब्ध नहीं कराया जाता। मलिन बस्तियों के दो लाख से अधिक लोग जो प्रभावित होंगे, वे बरसात के मौसम में कहाँ जायेंगे….? मलिन बस्तियों में रहने वाले लोगों की इस विकट समस्या को देखते हुए राज्य सरकार ने अध्यादेश के माध्यम से 03 साल का समय लिया है। इन तीन सालों में राज्य सरकार मलिन बस्तियों के लोगों की आवास से सम्बन्धित समस्याओं का समाधान करेगी। हमने निर्णय लिया है 03 साल के अन्दर गरीबों को छत दे सकें और कानून का भी पालन हो। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने 2022 तक सबके लिए घर, बिजली, पानी, गैस कनेक्शन उपलब्ध कराने का संकल्प लिया है। उनके इस संकल्प को पूरा करने के लिए हम सब को एकजुट होकर सहयोग करना होगा।
इस अवसर पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष श्री अजय भट्ट, विधायक श्री हरबंस कपूर, भाजपा नेता श्री सुनील उनियाल गामा, भाजपा के प्रवक्ता श्री बलजीत सोनी, मण्डल अध्यक्ष श्रीमती पूनम नौटियाल आदि उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY