बच्चे के जन्म के समय माता का पीला गाढा दूध बच्चे के लिए अमृत है-रेखा आर्य

0
3332
Reading Time: < 1 minute
देहरादून, 03 अगस्त 2018, पूरे प्रदेश में 1 से 7 अगस्त तक विश्व स्तनपान जागरूकता सप्ताह के आयोजन और ‘‘ बेटी बचाओ, बेटी पढाओ’’ का संदेश देने के उद्देश्य से बाल विकास राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्रीमती रेखा आर्य द्वारा दून महिला चिकित्सालय में भ्रमण के दौरान गर्भवती महिलाओं व नवजात शिशु की माताओं को स्तनपान के विषय में जानकारी दी गयी और  बेटियों की स्वीकार्यता के लिए समाज को संदेश दिया गया।
इस दौरान मा0 मंत्री द्वारा प्रधानमंत्री मातृ वन्दना योजना और वैष्णवी किट योजना के तहत् नवजात बच्चियों को जरूरी वैष्णवी किट और महिलाओं को फलाहार वितरित किया गया। मा0 मंत्री ने इस दौरान कहा कि बच्चे के जन्म के समय माता का पीला गाढा दूध बच्चे के लिए अमृत है, उसे जरूर पिलायें जिससे बच्चों को जरूरी पोषक तत्व मिल पायें तथा प्रथम छ माह तक केवल माॅ का दूध पिलाने हेतु महिलाओं को प्रेरित किया और कहा कि बच्चे को पूरा स्तनपान कराने से महिलाएं अनेक बीमारियों के जोखिम से भी बची रहती हैं और बच्चे का सर्वागीण विकास भी होता है। इस दौरान मेडिकल कालेज की छात्राओं ने नुक्कड़ नाटक की प्रस्तुति के माध्यम से स्तनपान जागरूकता का संदेश दिया और कहा कि स्तनपान सही पोजिशन में करवाना भी जरूरी है, जिससे एक ओर माॅ और बच्चे के बीच भावनात्मक रिश्ता बना रहे तो दूसरी ओर बच्चे को पर्याप्त दूध भी मिले और माता के दूध भी बनता रहे।
मा0 मंत्री ने कहा कि आज दोपहर विधानसभा में महिलाओं की सुरक्षा हेतु एक ट्रायल के तौर पर ‘‘पैनिक बटन’’ का शुभारम्भ भी किया जायेगा, जो आपातकाल में महिलाओं की सुरक्षा के लिए एक मील का पत्थर साबित हो सकता है।
इस अवसर पर उप निदेशक आईसीडीएस श्रीमती सुजाता सिंह व एस.के सिंह, डी.पी.ओ क्षमा बहुगुणा सहित सम्बन्धित कार्मिक उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY