संघ द्वारा प्रान्त समन्वय बैठक का आयोजन

0
3945
Reading Time: 1 minute

देहरादून 22 अगस्त, 2018-आज 23.8.18 को संघ द्वारा प्रान्त समन्वय बैठक का आयोजन किया गया। बैठक का उद्घाटन भारत माता के चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलन कर किया गया। दीप प्रज्वलन मा. क्षेत्र संघचालक सूर्यप्रकाश टाँक जी, प्रान्त संघचालक सरदार गजेन्द्र सिंह जी व क्षेत्र प्रचारक आलोक जी द्वारा किया गया।
संघ विचार परिवार के 29 संगठनों का इस बैठक में प्रतिनिधित्व रहा।
क्षेत्र प्रचारक (पश्चिमी उ.प्र. व उत्तराखण्ड) आलोक जी द्वारा इसमें मार्गदर्शन किया गया। सभी उपस्थित संगठनों द्वारा वर्ष भर की अपनी उपलब्धियों का उल्लेख किया। आलोक जी ने बताया कि आवसी सम्वाद व समन्वय के साथ ही विचार को मजबूत कर भारत को हर प्रकार से सक्षम बनाया जा सकता है। वहीं उत्तराखण्ड की सीमा पर चीन द्वारा बार-बार अतिक्रमण की चुनौती को मिलकर ही जवाब दिया जाय। संगठनों द्वारा जन-जागरण द्वारा उत्तराखण्ड की जनता को जागरुक किया जाय ताकि राष्ट्रविरोधी को मुंहतोड़ जवाब मिले। उन्होंने संघ विचार-परिवार के उपस्थित संगठनों के कार्यकर्ताओं से आग्रहपूर्वक कहा कि राष्ट्रीय आपदा की इस घड़ी में केरल के लिये तन-मन-धनपूर्वक सहयोग करें।माननीय मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जी द्वारा प्रान्त को ड्रग्स नशा मुक्त बनाने के लिए आव्हान किया गया।


सक्षम द्वारा 2018-19 के लिए 1000 नेत्रदान का संकल्प लिया गया। उमा देवी आपदा पीड़ित सहायता समिति द्वारा छात्रावास में रहकर शिक्षा ग्रहण करने वाले छात्रों को उचित मार्गदर्शन देना ताकि वे अपने क्षेत्र के प्रेरणास्रोत बनें, साथ ही चिकित्सालय केन्द्रों द्वारा चारधाम यात्रा मार्गों पर स्थानीय व तीर्थयात्रियों को चिकित्सा सुविधाएं दे रहे हैं
राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ द्वारा प्राइमरी शिक्षा से लेकर महाविद्यालयीन शिक्षा केन्द्रों तक इकाई स्थापित करना। इन केन्द्रों पर गुरुवन्दन कार्यक्रम करवाये जायेंगे।
उत्तरांचल उत्थान परिषद द्वारा प्रदेश में अपने केन्द्र स्थापित किये जायेंगे। उत्तरांचल उत्थान परिषद द्वारा एक माह के हरेला पर्व पर पूरे उत्तराखण्ड में 10,000 वृक्ष लगाये गए।
प्रवासी पंचायत द्वारा उत्तराखण्ड से बाहर रहने वाले वासियों से एक बार अपने गांव लौटने तथा हिमालय दिवस मनाने का भी आग्रह किया।
उत्तराँचल दैवीय आपदा पीड़ित सहायता समिति द्वारा 5 छात्रावास 3 शिशु मंदिर ३ विद्या मंदिर 3 कंप्यूटर प्रशिक्षण केंद्र 3 सिलाई प्रशिक्षण केंद्र 9 चिकित्सालय 25 गांव में बाल संस्कार केंद्र संचालित किये जाते हैं द्य
वनवासी कल्याण आश्रम द्वारा 7 छात्रावास 4 सिलाई केन्द्र 5 सत्संग केंद्र 5 खेलकूद केंद्र 5 बड़े चिकित्सालय 172 आरोग्य रक्षक का संचालन किया जाता है
राष्ट्रीय सेवा भारती द्वारा 72 संस्कार केंद्र 37 चल चिकित्सालय 9 चिकित्सालय 2 फिजियो सेन्टर 1 व्यायाम शाला 26 सिलाई केंद्र 1 मोबाइल रिपेयर सेंटर 1 ब्यूटी पार्लर 3 पुस्तकालय 31 समरसता केंद्र
संस्कृत भारती द्वारा 10 10 दिन के 100 संस्कृत सम्भाषण का शिविर का आयोजन किया गया
भारतीय किसान संघ 15 गांव में जैविक खेती प्रशिक्षण वर्ग लगाए गए
क्रीड़ा भारती प्रदेश में 22 स्थानों पर ग्रामीण खेलों के प्रोत्साहन कार्यक्रम आयोजित किये गए 8 जिलों में खेल दिवस पर संगोष्ठियों का आयोजन खिलाड़ियों के माता पिता को 2 स्थानों में सम्मानित किया गया नशा मुक्ति के लिए क्रॉस कंट्री रेस का आयोजन किया गया
देवभूमि विचार मंच द्वारा 10 स्थानों पर विचार गोष्ठियों का आयोजन किया गया
राष्ट्रीय सेविका समिति 29 स्थानों पर शाखाएं 7 स्थानों पर मिलन प्रबुद्ध महिला मंच 6 स्थानों पर कार्यक्रम जून में समिति शिक्षा वर्ग प्राथमिक का आयोजन 2 स्थानों पर किया गया
विश्व आयुर्वेद परिषद् मर्म चिकित्सा शिविर हरिद्वार 500 विद्यार्थियों ने प्रतिभाग किया जून माह में आयुर्वेदिक विद्यार्थी व्यक्तितव विकास शिविर का आयोजन 150 विद्यार्थियों ने प्रतिभाग किया कोटद्वार में चरक डांडा ने महर्षि चरक की प्राण प्रतिष्ठा और प्रतिमाह निःशुल्क चिकित्सा शिविर लगाने की योजना बनाई
अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद 65000 सदस्यता 80 : महाविद्यालयों में छात्रसंघ ंइअच का पैनल जीता लैंसडौन सेना में भर्ती होने आये 12000 छात्रों की भोजन आवास व्यवस्था की गयी
नेशनल मेडिकोज आर्गेनाइजेशन प्रतिमाह स्वास्थ्य कैंप का आयोजन मेडिकल कॉलेजो में समिति का गठन
राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ व्यास पूर्णिमा 31 केन्द्रो पर ज्येष्ठ भारत श्रेष्ठ भारत प्रदेश स्तर पर कार्यक्रम का आयोजन कर्त्तव्य बोध दिवस पर सेमिनार 250 शिक्षार्थियों ने प्रतिभाग किया
अखिल भारतीय साहित्य परिषद सभी जिला केन्द्रो पर अखिल भारतीय साहित्य परिषद का गठन भारतीय साहित्य का सामर्थ्य पर 2 स्थानों पर गोष्टी का आयोजन
विद्या भारती कुल विद्यालय 652 आचार्य 5406 छात्र 118036 सेवा केंद्र 105 ए300 विद्यालयों में 1452 गांव के 48000 लोगों ने ग्राम गोष्ठी में भाग लिया पूर्व छात्र परिषद का गठन
विश्व हिन्दू परिषद कटारपुर गौ रक्षा बलिदान दिवस पर कार्यक्रम 10000 की संख्या टिहरी जिले में खेट पर्वत यात्रा अल्मोड़ा में जागेश्वर धाम यात्रा जम्मू कश्मीर बूढ़ा अमरनाथ 300 बजरंग दल के कार्यकर्ता गए 1350 वर्तमान में एकल विद्यालय का संचालन विश्व हिन्दू परिषद के द्वारा हो रहा है बैठक में प्रान्त प्रचारक युद्धवीर जी, प्रान्त कार्यवाह दिनेश सेमवाल जी सहित विविध संगठन के प्रमुख कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY