देश में आईपीपीबी का शुभारम्भ / Indian Post Payments Bank launched in country

0
8604
Reading Time: 2 minutes
देहरादून 01 सितम्बर, 2018(सू.ब्यूरो)- प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम से इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (आईपीपीबी) का शुभारम्भ किया। आईपीपीबी की शुरूआत देशभर में 650 शाखाओं व 3250 पहुंच केन्द्रो (एक्सेस प्वाइंट) से की जा रही है। आम आदमी के लिए सुगम, किफायती व भरोसेमंद बैंक के रूप में सुविधाएं उपलब्ध कराने के उद्देश्य से आईपीपीबी की स्थापना की जा रही है। डाकियों व ग्रामीण सेवकों के बड़े नेटवर्क से लोगों को घरों में जाकर बैंकिंग सुविधा उपलब्ध कराई जायेगी। आईपीपीबी की टैग लाइन आपका बैंक, आपके द्वार है।
  •  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम से किया शुभारम्भ
  •  मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने इंडियन पोस्ट पेमेंटस बैंक की देहरादून शाखा का किया उद्घाटन
  •  मुख्यमंत्री ने चार खाताधारकों को वितरित किया क्यू आर कार्ड
मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने शनिवार को जीपीओ देहरादून में इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (आईपीपीबी) देहरादून शाखा का उद्घाटन किया। चार खाताधारकों को क्यू आर कार्ड वितरित किये व इसके लोगो को लाँच किया। अभी उत्तराखण्ड में आईपीपीबी की कुल 12 शाखाएँ खोली जा रही हैं। इसके लिए 60  पहुंच केन्द्र (एक्सेस प्वाइंट) बनाये जा रहे हैं।
मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने आईपीपीबी की शुरूआत कर उन संस्थाओं को पुनर्जीवित करने का कार्य किया है, जिन से लोग दूर हो रहे थे। आईपीपीबी की शुरूआत होने से ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूती मिलेगी। बचत के लिए लोगों की सोच में नया परिवर्तन आयेगा। आईपीपीबी की व्यवस्था ग्रामीण अर्थव्यवस्था में सुधार के साथ ही गेम चेन्जर साबित होगी। मनीआॅर्डर व्यवस्था पर उत्तराखण्ड की अर्थव्यवस्था रही है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के डिजिटल इंडिया के सपने को साकार करने में यह एक अच्छी शुरूआत है। उन्होंने रेडियो को लोकप्रिय बनाने में, दूरदर्शन को और अधिक मजबूती प्रदान करने का कार्य किया है। खादी को बढ़ावा दिया जा रहा है। खादी के अधिक उपयोग से सिल्क के उद्योगों में अच्छी कमाई हो रही है।
आईपीपीबी का उद्देश्य जनसामान्य के लिए सर्वाधिक पहुंच वाला, किफायती व भरोसेमंद बनाना, देश में बैंकिंग सुविधाओं से वंचित तथा अल्प बैंकिंग सुविधाओं वाले जन समूह की राह की बाधाओं को हटाकर वित्तीय समावेशन के लक्ष्य को प्राप्त करना है। आईपीपीबी से ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों, वरिष्ठ नागरिकों विद्यार्थियों कृषकों व छोटे व्यवसायी लाभान्वित होंगे।
इस अवसर पर  विधानसभा अध्यक्ष श्री प्रेमचन्द अग्रवाल, उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डाॅ. धन सिंह रावत, विधायक श्री खजान दास, श्री गणेश जोशी, श्री उमेश शर्मा ‘काऊ’, श्री मुन्ना सिंह चैहान,  चीफ पोस्ट मास्टर जनरल श्री विनय कुमार तिवारी आदि उपस्थित थे।

Dehradun 01 September, 2018-Prime Minister Mr. Narendra Modi inaugurated the India Post Payments Bank (IPPB) from the Talkatora Stadium in Delhi. IPPB is being launched from 650 branches and 3250 Access Point across the country. IPPB is being set up to provide facilities for the common man in the form of smooth, affordable and dependable bank. Banking facility will be made available to people from the large network of post offices and Gramin Sevak. The IPPB tag line is “Aapka Bank Aapke Dwar”.

  • Prime Minister Mr. Narendra Modi inaugurated from Delhi’s Talkatora Stadium
  • Chief Minister Mr. Trivendra Singh Rawat inaugurated the Dehradun Branch of Indian Post Payments Bank
  • Chief Minister distributed the QR Card to four account holders

Chief Minister Mr. Trivendra Singh Rawat inaugurated the India Post Payments Bank (IPPB) Dehradun Branch at GPO Dehradun on Saturday. He Distributed QR Cards to four account holders and launched its logo. Currently, 12 branches of IPPB are being opened in Uttarakhand. As many as 60 Access Point are being made for this.

Chief Minister said that Prime Minister Mr. Narendra Modi has initiated the IPPB to revive the institutions from which people were getting away. The introduction of IPPB will strengthen the rural economy. There will be a new change in people’s thinking for savings. The provision of IPPB will prove to be a game changer with improvement in the rural economy. The economy of Uttarakhand has remained on the Money Order system. This is a good start in realizing Prime Minister Mr. Narendra Modi’s dream of Digital India. He has done the work of popularizing radio and strengthening Doordarshan. Khadi is being promoted. With the use of Khadi, the Silk industry is making good earnings.

Chief Minister said that IPPB aims to achieve the goal of financial inclusion by providing most accessible, economical and dependable for the public and those deprived of banking facilities in the country, as well as those facing problem of insufficient banking facilities. IPPB will benefit people of rural areas, senior citizens, students, farmers and small businessmen.

On the occasion, Assembly Speaker Mr. Premchand Aggarwal, Minister of State for Higher Education Dr. Dhan Singh Rawat, MLA Mr. Khajan Dass, Mr. Ganesh Joshi, Mr. Umesh Sharma ‘Kau’, Mr. Munna Singh Chauhan, Chief Post Master General Mr. Vinay Kumar Tiwari etc. were present.

LEAVE A REPLY